ताज़ा खबर
 

आठ सीटों पर क्‍यों हारे? AAP ने हाईलेवल मीट‍िंंग में की समीक्षा, अरव‍िंंद केजरीवाल ने द‍िए न‍िर्देश

जिन आठ सीटों पर AAP के उम्मीदवार हारे उनमें बदरपुर, लक्ष्मी नगर, विश्वास नगर, रोहिणी, गांधी नगर¸रोहतास नगर, घोंडा¸करावल नगर शामिल हैं।

अरविंद केजरीवाल ने पार्टी की 8 सीटों की हार को लेकर भी हाईलेवल मीटिंग समीक्षा की ।(फाइल फोटो-PTI)

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में आम आदमी पार्टी ने शानदार प्रदर्शन किया। 70 विधानसभा वाली दिल्ली में आप ने 62 सीटें अपने नाम की। वहीं बीजेपी के हिस्से में 8 सीटें आईं। पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल ने पार्टी  की 8 सीटों की हार को लेकर भी हाई लेवल समीक्षा की है।

हाई लेवल मीटिंग में  केजरीवाल और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं ने हारी हुई के कारणों पर विस्तार से चर्चा की। इस दौरान इन सीटों पर  चुनाव लड़ने वाले  आम आदमी पार्टी के उम्मीदवारों ने भी  अपनी राय रखी। अरविंद केजरीवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं और आम लोगों से इन सीटों पर संपर्क  में रहने को कहा है। जिन आठ सीटों पर AAP के उम्मीदवार हारे उनमें बदरपुर, लक्ष्मी नगर, विश्वास नगर, रोहिणी, गांधी नगर¸रोहतास नगर, घोंडा¸करावल नगर शामिल हैं। यही नहीं इनमें से तीन सीटों पर आप के विधायक थे जो फिर से चुनाव लड़े और हार गए। इसमें घोंडा से श्रीदत्त शर्मा, लक्ष्मी नगर से नितिन त्यागी व रोहतास नगर से सरिता सिंह हैं।

AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने पार्टी के नेताओं को लोगों से संपर्क में रहने और उनकी परेशानियां दूर करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा उन्होंने जनता के साथ एक मजबूत और करीबी रिश्ता बनाने और उनकी भावनाओं को समझने की कोशिश करने को कहा है। इसके अलावा  जिन सीटों पर आम आदमी पार्टी की  बहुत कम अंतर से हार हुई, उन पर विशेष बात हुई। मसलन, लक्ष्मी नगर की सीट आप को मात्र 800 वोटों से गंवानी पड़ी थी। इसके अलावा  समीक्षा के दौरान पार्टी के नेताओं ने अरविंद केजरीवाल की बातों पर सहमति जताते हुए पार्टी को और मजबूत बनाने की बात कही।

गौरतलब है कि आप ने पिछले विधासभा चुनाव में 67 सीटों पर जीत हासिल की थी जबकि इस वर्ष यानी 2020 में आप के खाते में 62 सीटें आईं। वहीं बीजेपी को पिछली बार से पांच सीटें ज्यादा मिली हैं। कांग्रेस दोनों बार खाता खोलने में असमर्थ रही और पार्टी को करारी शिकस्त सहनी पड़ी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 डिटेंशन सेंटर में जिन्होंने पूरे कर लिए तीन साल, उसे छोड़ा या नहीं? SC ने मांगी स्टेटस रिपोर्ट
2 ‘उमर अब्दुल्ला को क्यों रखा है नजरबंद?’ सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू-कश्मीर प्रशासन से 2 मार्च तक मांगा जवाब
3 बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने PM मोदी के गृह राज्य में वैलेंनटाइन डे पर मचाया हंगामा, प्रेमी जोड़ों को खदेड़ा
ये पढ़ा क्या?
X