ताज़ा खबर
 

अरविंद केजरीवाल की चुनौती से क्या डर गईं किरण बेदी, कहा: सदन में करूंगी बहस

दिल्ली में भाजपा द्वारा मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार बनाए जाने के एक दिन बाद आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने आज किरण बेदी को सार्वजनिक बहस की चुनौती दी। बेदी ने इसका जवाब देते हुए कहा कि वह उनके साथ सदन के भीतर बहस करेंगी। आप नेता ने कहा कि लोकतंत्र के लिए यह अच्छी पहल […]

Author January 20, 2015 3:01 PM
केजरीवाल को किरण ने दिया जवाब, सदन में बहस करूंगी

दिल्ली में भाजपा द्वारा मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार बनाए जाने के एक दिन बाद आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने आज किरण बेदी को सार्वजनिक बहस की चुनौती दी। बेदी ने इसका जवाब देते हुए कहा कि वह उनके साथ सदन के भीतर बहस करेंगी।

आप नेता ने कहा कि लोकतंत्र के लिए यह अच्छी पहल होगी, यदि हमारे बीच विभिन्न मुद्दों पर बहस हो। लोग धर्म और जाति के नाम पर वोट देते हैं, मुद्दों के बारे में जागरुक नहीं हैं। करीब एक दो घंटे की बहस ठोस मुद्दों पर होनी चाहिए। केजरीवाल की चुनौती का जवाब देते हुए बेदी ने कहा कि आप प्रमुख केवल बहस में यकीन रखते हैं, जबकि उनका ध्यान सेवा करने पर है और वह सदन के भीतर बहस करेंगी।

पूर्व आईपीएस अधिकारी ने कहा कि अरविंद केवल बहस में यकीन करते हैं जबकि मैं काम करने में यकीन करती हूं। मैं उनके साथ सदन के भीतर बहस करूंगी। सोशल मीडिया पर अपनी सक्रिय भूमिका के लिए जाने जाने वाले केजरीवाल ने बेदी से यह अपील भी की कि वह माइक्रोब्लागिंग साइट ट्विटर पर उन्हें अन ब्लॉक करें। उन्होंने ट्वीट किया, किरणबेदीजी किरणजी, मैं आपको ट्विवटर पर फॉलो करता रहा हूं। अब आपने मुझे टिवटर पर ब्लॉक कर दिया है। कृपया मुझे अन ब्लॉक कर दें।

केजरीवाल के ट्विटर एकाउंट को गंदा करार देते हुए बेदी ने केजरीवाल पर पलटवार करते हुए कहा कि उन्होंने उनको सालभर से भी पहले ब्लॉक किया था क्योंकि वह नकारात्मकता फैला रहे थे। बीती रात दिल्ली से भाजपा की मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार घोषित की गयीं बेदी ने कहा कि मैंने उन्हें करीब 15 महीने पहले ब्लॉक कर दिया था जब उन्होंने खुद को अराजकतावादी बताया था। वह नकारात्मकता फैला रहे थे। नहीं चाहती थी कि मेरे चार मिलियन फालोअर नकारात्मकता को देखें, यह एक प्रदूषण फैलाने वाला एकाउंट था। 


देश की पहली महिला आईपीएस अधिकारी रहीं 65 वर्षीय बेदी को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी संसदीय बोर्ड के साथ बैठक करने के बाद मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया है। घोषणा के बाद अपनी पहली प्रतिक्रिया में आप ने कहा कि बेदी आप के लिए कोई चुनौती नहीं हैं और भाजपा की पसंद का उसकी अपनी साख पर गलत असर पड़ेगा।

वरिष्ठ आप नेता सोमनाथ भारती ने कहा कि भाजपा ने किरण बेदी को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया है, ताकि उन्हें बलि का बकरा बनाया जा सके क्योंकि भाजपा, आप की बढ़ती लोकप्रियता और उसके बढ़ते आधार के चलते अपनी जीत के प्रति विश्वस्त नहीं है।


बेदी पूर्वी दिल्ली में कृष्णा नगर सीट से चुनाव लड़ेंगी, जिसे भाजपा का मजबूत गढ़ माना जाता है। संसदीय बोर्ड की बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरुण जेटली, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज तथा अन्य कई नेताओं ने भाग लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App