ताज़ा खबर
 

अरविंद केजरीवाल का ऐलान, दिल्ली ही नहीं अब यूपी, उत्तराखंड समेत 6 राज्यों में लड़ेंगे चुनाव

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करते केजरीवाल ने कहा "अगले 2 साल में आम आदमी पार्टी ने इन 6 राज्यों में चुनाव लड़ेगी-उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश, गोवा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और गुजरात।"

Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: January 28, 2021 2:11 PM
आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (ANI)

आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को एक बड़ा ऐलान किया है। आप की 9वीं राष्ट्रीय परिषद की बैठक में दिल्ली के सीएम ने कहा कि पार्टी अगले दो साल में देश के राज्यों में होने वाले 6 विधानसभा चुनाव लड़ेगी।

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करते केजरीवाल ने कहा “अगले 2 साल में आम आदमी पार्टी ने इन 6 राज्यों में चुनाव लड़ेगी-उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश, गोवा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और गुजरात।” केजरीवाल ने 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा को लेकर कहा कि हिंसा दुर्भाग्यपूर्ण थी, लेकिन किसानों पर फर्जी केस लगाए जा रहे हैं। केजरीवाल ने कहा कि जो पार्टी गणतंत्र दिवस पर देश की राजधानी में हिंसा फैलाने के लिए जिम्मेदार है, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई हो। उसे सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए, लेकिन उस दिन हिंसा हुई, इस वजह से किसानों के मुद्दे खत्म नहीं हो गए है, वो मुद्दे आज भी बरकरार हैं।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 70 साल से सभी पार्टियों ने मिलकर किसानों को धोखा दिया है, कभी कहते थे किसानों का लोन माफ करेंगे, लेकिन किसी ने भी कर्ज माफ नहीं किया, किसानों के बच्चों को नौकरी देने का वादा किया, लेकिन नौकरी नहीं दी, पिछले 25 साल में साढ़े 3 लाख किसान आत्महत्या कर चुके हैं।

वहीं उत्तर प्रदेश के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह का जिक्र करते हुए केजरीवाल ने कहा “सिद्धार्थ नाथ सिंह ने मनीष सिसोदिया जी को चुनौती दी कि आए और हमारे साथ बहस करे। जब मनीष जी पहुंचे तो वो भाग खड़े हुए। इन्होंने काम किया ही नहीं। जब मनीष जी स्कूल देखने के लिए गए तो पुलिस ने उन्हें वही रोक लिया। दिल्ली के सीएम ने आगे कहा “इससे पता चलता है कि स्कूल की ज़्यादा हलत खराब है, जिस स्कूल को उन्हें दिखाने में डर लग रहा वहां हमारे करोड़ो बच्चे पढ़ रहे हैं।”

Next Stories
1 Union Budget (1947-2021): बंटवारे के दर्द से लेकर कोरोना के कहर तक, बजट के देश का बहीखाता बनने की दास्तान
2 राहुल गांधी बोले- बहुत सारे किसान नहीं समझ पाए कृषि कानून वरना पूरा देश जल उठता
3 किसान आंदोलनः पैनलिस्ट बोले, गंदे आदमी हैं आप, 20 साल मुंह नहीं दिखा पाओगे, मिला जवाब
ये पढ़ा क्या?
X