CM केजरीवाल नजरबंद? DP से हुई मनीष सिसोदिया की बहस, बोले- कौन मिलेगा, कौन नहीं…ये पुलिस तय करेगी?

आम आदमी पार्टी (AAP) ने आज सुबह आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को “हाउस अरेस्ट” किया हुआ है.

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का कहना है कि मुख्यमंत्री ऑफ़िस कह रहा है लोगों को आने दो लेकिन पुलिस अंदर नहीं जाने दे रही है. सीएम से मिलना है या नहीं यह पुलिस तय कर रही है CM नहीं? . सिसोदिया ने ट्वीट किया, ‘फिर भी बीजेपी और उसकी पुलिस बेशर्मी से कह रही है कि CM को नज़रबंद नहीं किया हुआ. नज़रबंदी/हाउस अरेस्ट और क्या होता है?’

एक अन्य ट्वीट में ने उन्होंने कहा, ‘उपमुख्यमंत्री तक को मुख्यमंत्री से मिलने नहीं दे रहे, और अमित शाह की पुलिस कह रही है कोई हाउस अरेस्ट नहीं है? क्या हमारे देश के किसान के साथ खड़ा होना इतना बड़ा गुनाह है?’


आम आदमी पार्टी (AAP) ने आज सुबह आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को “हाउस अरेस्ट” किया हुआ है. पार्टी का कहना है कि जब से केजरीवाल ने प्रदर्शनकारी किसानों से मुलाकात की है तब से वे हिरासत में हैं. AAP ने यह भी आरोप लगाया कि केंद्र सरकार नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के चलते मुख्यमंत्री केजरीवाल को जानबूझकर रोके हुए है.

AAP प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने आज एक संवाददाता सम्मेलन में दावा किया, “जब हमारे विधायक मुख्यमंत्री से मिलने गए तो उन्हें बाहर कर दिया गया. पार्टी कार्यकर्ताओं को भी मिलने की अनुमति नहीं दी गई.”

दोपहर में उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया केजरीवाल के आवास के बाहर पहुंचे. उन्होंने मीडियाकर्मियों से बात करते हुए आरोप लगाया कि केंद्र सरकार द्वारा किसानों के विरोध के लिए स्टेडियमों का उपयोग करने की अनुमति देने से इनकार करने के लिए मुख्यमंत्री के साथ गलत व्यवहार किया जा रहा है.

सिसोदिया ने दावा किया कि पुलिस AAP कार्यकर्ताओं को सीएम आवास में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दे रही है. “अब, जनता को उनसे ( सीएम केजरीवाल से ) मिलने की अनुमति नहीं दी जा रही है. क्या इसका मतलब यह है कि वह घर में नजरबंद हैं? इन सभी सुरक्षाकर्मियों को यहां क्यों तैनात किया गया है?”

इससे पहले, AAP ने आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस ने केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश पर, शहर के विभिन्न नागरिक निकायों के तीन महापौरों को मुख्यमंत्री के घर के सामने विरोध प्रदर्शन करने के लिए उकसाया था. AAP ने दावा किया कि केजरीवाल के आवास पर पूरी तरह से बैरिकेडिंग की गई है, जिसमें किसी को भी प्रवेश करने या बाहर निकलने की अनुमति नहीं है.

हालांकि उत्तर जिले के लिए दिल्ली पुलिस उपायुक्त, एंटो अल्फोंस ने पार्टी के आरोपों से इनकार किया. साथ ही आरोपों को “झूठ” और “आधारहीन” करार दिया. बता दें कि केजरीवाल ने प्रदर्शनकारी किसानों से मिलने और उनके लिए व्यवस्थाओं की समीक्षा करने के लिए सोमवार को दिल्ली और हरियाणा के बीच सिंघू बॉर्डर का दौरा किया था.

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।