ताज़ा खबर
 

कत्लेआम से नरसंहार तक…सारी बुराइयां मेरी वजह से, बाकी राजा हरिशचंद्र की औलाद हैं- BJP प्रवक्ता के सामने ओवैसी का कड़ा कटाक्ष

डिबेट में तिलमिलाए ओवैसी ने कहा कि झगड़ा इसी बात का है कि तमात बुराइयां हम में हैं। जो सत्ता में बैठते हैं वो दूध के धुले होते हैं।

TV debate hyderabad newsभाजपा सांसद सुधांशु त्रिवेदी और AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी। (वीडियो स्क्रीनशॉट)

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव परिणाम के बाद सियासी घमासान मचा हुआ है। चुनाव में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM अपनी जमीन बचाने में कामयाब रही, हालांकि भाजपा ने टीआरएस को बड़ा नुकसान पहुंचाया। आरोप है कि ओवैसी की ‘मुस्लिम राजनीति’ के चलते तेलंगाना में भाजपा अपने पैर जमा रही है, हालांकि हैदराबाद सांसद ने इससे इनकार किया। टीवी चैनल आजतक के डिबेट शो टक्कर में भाजपा नेता सुधांशु त्रिवेदी और AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी के बीच इन्हीं मुद्दों के आपपास खूब बहस हुई।

डिबेट में एंकर अंजना ओम कश्यप ने ओवैसी को जय श्रीराम बोलने के मुद्दे पर घेरने की कोशिश की। इस पर AIMIM नेता नाराज हो गए और उन्होंने कहा कि सभी कमियां उन्हीं के अंदर हैं और नरेंद्र मोदी भी उन्हीं की वजह दो बार पीएम बन गए। उनकी वजह से ही गुजरात, दिल्ली और मुजफ्फरनगर में दंगे हुए।

डिबेट में ओवैसी ने कहा कि ‘मेरी वजह से नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बन गए। मेरी वजह से ही मोदी 280 से 306 पर चले गए। मेरी वजह से मोदी जब गुजरात के सीएम थे वहां सैकड़ों लोगों की हत्या हो गई। मेरी वजह से ही सिखों का नरसंहार हुआ। मेरी वजह से दिल्ली दंगे और मुजफ्फरनगर दंगा हुआ। इस मुल्क में जो तमाम बुराइयां शुरू हुईं और कमजोरी हैं मेरी वजह से ही हैं। बाकि सभी राजा हरिशचंद्र की औलादें हैं। सभी नेक हैं और कोई गुनाहगार है तो हम हैं बस। बाकी तमाम लोग सही हैं।’

डिबेट में तिलमिलाए ओवैसी ने कहा कि झगड़ा इसी बात का है कि तमात बुराइयां हम में हैं। जो सत्ता में बैठते हैं वो दूध के धुले होते हैं। बिहार में चुनाव होते हैं तो ठाकुर, ब्राह्मण, भूमिहार, कुर्मी सब देखा जाता है मगर बात सिर्फ मुसलमानों की होती है, यहीं तो पाखंड है। यही भारत की राजनीति की हकीकत है और इससे इनकार नहीं किया जा सकता है।

ग्रेटर हैदराबाद मेयर के लिए ओवैसी क्या टीआरएस का साथ देंगे। इसपर उन्होंने कहा कि भारत की राजनीति में उन्हें लैला बना दिया गया है। बता दें कि निगम चुनाव में ओवैसी की पार्टी ने 44 सीटों पर जीत दर्ज की है। पिछले चुनाव में भी पार्टी ने 44 सीटों पर जीत दर्ज की थी। चुनाव में भाजपा ने 48 सीटों पर जीत हासिल की है। केसीआर की पार्टी टीआरएस को 56 सीट मिलीं जबकि कांग्रेस के खाते में सिर्फ 2 सीट आईं। इस बार किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला है 150 वार्डों वाले ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम में बहुमत का आंकड़ा 76 है।

Next Stories
1 पहली मुलाकात में ही RLSP चीफ उपेंद्र कुशवाहा की पत्नी ने कार्यकर्ताओं को हड़काया, पति ने की नीतीश से मुलाकात
2 …जब समोसा और लड्डू खाते-खाते आषुतोष को इंटरव्यू देने लगे थे अटल बिहारी वाजपेयी, टीवी पत्रकार ने सुनाया पूरा किस्सा
ये पढ़ा क्या?
X