बंगालः 10 लोग मर गए और आप भाषण देने आए हैं? बोलीं एंकर, संबित पात्रा ने कहा- पाकिस्तान विभाजन जैसा माहौल

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि भारत के विभाजन के समय जिस प्रकार से लाखों लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया था, हिंसा का रक्तचरित्र जो उस समय हुआ था

west bengal, TMC, BJPमंगलवार को भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने पीड़ित कार्यकर्ताओं के घर का दौरा किया और कहा कि बंगाल में सत्ता पर बैठने के लिए रक्त रंजित राजनीति को भाजपा कभी बर्दाश्त नहीं करेगी। (फोटो – पीटीआई)

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजों के आते ही राज्य में कई जगहों से हिंसा की खबरें सामने आई है। इस हिंसा में अबतक अलग अलग राजनीतिक दलों के करीब 12 कार्यकर्ता मारे जा चुके हैं। इसी मुद्दे पर आयोजित एक टीवी डिबेट में शो की एंकर पैनल में मौजूद रहे टीएमसी प्रवक्ता रिजू दत्ता पर जमकर बिफरीं। साथ ही भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि बंगाल में पाकिस्तान विभाजन जैसा माहौल देखने को मिल रहा है।

आजतक न्यूज चैनल पर आयोजित टीवी डिबेट में शो की एंकर चित्रा त्रिपाठी ने टीएमसी प्रवक्ता रिजू दत्ता से सवाल पूछते हुए कहा कि क्या टीएमसी अपने जीत का जश्न लोगों की लाशों पर मनाएगी। इसपर रिजू दत्ता ने जवाब देते हुए कहा कि ममता बनर्जी इस मामले पर एक उच्च स्तरीय बैठक कर रही हैं। टीएमसी किसी प्रकार की हिंसा का खंडन करती है। इस दौरान रिजू दत्ता ने यह भी कहा कि चुनाव के दौरान पिछले चार महीनों में भी बहुत कुछ हुआ।

रिजू दत्ता के इतना कहते ही एंकर चित्रा त्रिपाठी बिफर गईं। चित्रा कहने लगीं कि आपको यहां चुनावी भाषण देने के नहीं बुलाया है। यहां 10 लोग मर गए हैं और आप भाषण देने के लिए आए हैं। इसके बाद जवाब देते हुए रिजू दत्ता ने कहा कि पुराने बीजेपी के नेताओं और नए बीजेपी के नेताओं की यह लड़ाई है। दिल्ली चुनाव हारने के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने क्या किया था, यह याद नहीं है। बंगाल में भाजपा नेताओं ने जो भाषण दिए थे, यह उसी का नतीजा है। तृणमूल सरकार की जिम्मेदारी है कि वो हर लोगों को सुरक्षा दे और हम इसके लिए एक कठोर व्यवस्था भी ला रहे हैं।

आगे चित्रा त्रिपाठी ने पैनल में ही मौजूद भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा से सवाल पूछते हुए कहा कि बंगाल में भी हिंसा हो रही है, लेकिन आपके सांसद प्रवेश वर्मा भी उकसाने वाली बात कर रहे हैं। इसपर भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने जवाब देते हुए कहा कि पहले इस बात पर चर्चा होगी कि बंगाल में क्या हो रहा है। भारत के विभाजन के समय जिस प्रकार से लाखों लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया था, हिंसा का  रक्तचरित्र जो उस समय हुआ था आज वही पश्चिम बंगाल में हो रहा है। साथ ही भाजपा प्रवक्ता ने यह भी दावा किया कि आज पश्चिम बंगाल में आगजनी, मारपीट, हत्या और बलात्कार की घटनाएं हो रही है। ऐसी परिस्थिति किसी भी राज्य में चुनाव के बाद नहीं हुई।

मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने पीड़ित कार्यकर्ताओं के घर का दौरा किया और मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि बंगाल में सत्ता पर बैठने के लिए रक्त रंजित राजनीति को भाजपा कभी बर्दाश्त नहीं करेगी। ममता बनर्जी का राजनीतिक ढोंग और जिस तरह वो कहती हैं कि वो शांति लाना चाहती हैं ये शांति के तरीके हैं? हम इसका पर्दाफाश करेंगे।

बता दें कि चुनाव नतीजों की घोषणा के बाद शुरू हुई हिंसा में कम से कम 12 लोगों के मारे जाने की खबर है। हिंसा को लेकर भाजपा और तृणमूल के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। इसी बीच ममता बनर्जी ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है।

Next Stories
1 पीएम मोदी और बोरिस जॉनसन के बीच हुई वर्चुअल समिट, बैठक में रोडमैप-2030 को मिली मंजूरी
2 योगी आदित्यनाथ को मिली जान से मारने की धमकी, ‘आपके पास केवल चार दिन बचे हैं’
3 7th Pay Commission: बिहार में सीधे इंटरव्यू से भर्ती होंगे डॉक्टर, 65 हजार रुपये वेतन, स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को अतिरिक्त मानदेय देंगे योगी
यह पढ़ा क्या?
X