ताज़ा खबर
 

कांग्रेस में लोकतंत्र है कहां? आखिरी बार तो नरसिम्हा के वक्त हुए थे चुनाव- बोले पत्रकार, देखें- क्या आया शत्रुघ्न का जवाब

शत्रुघन सिन्हा कई सालों तक बीजेपी में रहे। लेकिन पिछले लोकसभा चुनाव से पहले वह कांग्रेस में आ गए। उन्होंने कांग्रेस की टिकट पर चुनाव भी लड़ा लेकिन हार गए।

अभिनेता शत्रुघन सिन्हा ने रिष्ठ पत्रकार प्रभु चावला के कई सवालों के जवाब दिया। (express file photo)

कांग्रेस नेता और अभिनेता शत्रुघन सिन्हा ने न्यूज़ चैनल “आजतक” के खास कार्यक्रम ‘सीधी बात’ पर वरिष्ठ पत्रकार प्रभु चावला के कई सवालों के जवाब दिया। इस दौरान उन्होंने अब तक के अपने राजनीतिक जीवन, भविष्य समेत अनेक अहम मुद्दों पर बातचीत की।

शत्रुघन सिन्हा कई सालों तक बीजेपी में रहे। लेकिन पिछले लोकसभा चुनाव से पहले वह कांग्रेस में आ गए। उन्होंने कांग्रेस की टिकट पर चुनाव भी लड़ा लेकिन हार गए। शो के दौरान शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा “मैं राजनीति के साथ-साथ फिल्मों भी रहा हूं। भारतीय जनता पार्टी में 30 साल से ज्यादा रहने के बाद अब कांग्रेस पार्टी में हूं। सिन्हा ने कांग्रेस को सबसे मजबूत और सबसे पुरानी पार्टी बताया और कहा कि “अब मैं सबसे अच्छी पार्टी में हूं।”

शत्रुघन सिन्हा ने कहा “मैंने वंशवाद के खिलाफ कभी बात नहीं की है। मैंने हमेशा सोनिया गांधी की तारीफ की है और उन्हें भारत की बहू बताया है। वो भारत की बहन हैं बेटी हैं। उनकी शादी भारत के घराने में हुए है तो वे भारत की भाभी हैं। मैंने हमेशा जवाहरलाल नेहरू के काम की उनके परिवार के योगदान की हमेशा तारीफ की है।”

प्रभु चावला ने कहा कि आप कह रहे हैं कि बीजेपी इंस्टीट्यूसन पर कब्जा कर रही है। लोकतंत्र नहीं है, कांग्रेस में भी लोकतंत्र कहा है? पत्रकार ने कहा “कांग्रेस में पार्टी की कमान गांधी परिवार के हाथ में ही रहती है। बीते कुछ साल से लगातार कहा जा रहा है कि कांग्रेस में पार्टी अध्यक्ष के पद के लिए चुनाव नहीं होते हैं। नरसिम्हा राव के वक्त, आखिरी बार चुनाव हुआ था।”

इसपर उन्होंने कहा कि बिना लोकतंत्र के सबसे ज्यादा विद्वान लोग सिर्फ कांग्रेस में ही हैं। हिंदुस्तान में एम्स से लेकर हर बड़ी संस्था कांग्रेस के जमाने में बने हैं। उस पार्टी में लोकतंत्र नहीं है, यह कहना गलत है। कांग्रेस के खराब प्रदेशन पर सिन्हा ने कहा “बीजेपी भी सिर्फ दो सीटों की पार्टी थी। भारतीय जनता पार्टी अभी वन मैन शो और 2 मैन आर्मी है। देश में बिना गांधी के क्या चलता है। हमारे पास तो तीन गांधी हैं।

बीजेपी के अपने कार्यकाल का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि हमें सबसे ज्यादा अतंरों से हर बार जनता जिताती रही। बीजेपी से झगड़ा नहीं हुआ लेकिन सैद्धांतिक आधार पर अनबन की वजह से पार्टी से अलग हो गए। उन्होंने नोटबंदी को ऐतिहासिक भूल बताते हुए मोदी सरकार की आलोचना की। शत्रुघ्न ने कहा कि नोटबंदी बहुत घातक साबित हुई। महिला, युवा से लेकर व्यापारी तक लोग प्रभावित हुए।

फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा से जब सवाल किया गया कि फिल्मों और राजनति में उनका भविष्य कैसा है, इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि उनके परिवार का भविष्य उज्ज्वल है। उन्होंने प्रभु चावला पर तंज कसते हुए कहा कि प्रभु की कृपा से मेरे परिवार का भविष्य उज्ज्वल है।

Next Stories
1 हम हों या कांग्रेस, पेट्रोल-डीज़ल की महंगाई विपक्ष का हथियार रहा है और यह ठीक भी है- जदयू प्रवक्ता बोले
2 भला यह भी कोई सफलता है, हद है! रवीश कुमार ने मोदी सरकार पर साधा निशाना तो विरोधियों ने मारा ताना
3 प्रशांत किशोर कर रहे मोदी सरकार को उखाड़ने की मोर्चाबंदी, पर नहीं तोड़ा है PM से संपर्क
ये पढ़ा क्या?
X