ताज़ा खबर
 

टीवी डिबेट के दौरान भड़के पाकिस्तानी पत्रकार, बोले- क्या भारत में जो बच्चे पैदा होते हैं, उन्हें मोदी भक्त होने की कसम खिलाई जाती है?

पाकिस्तान के इस झूठ को बेनकाब करने के लिए भारत ने जमकर तैयारी की और पाकिस्तान को बेनकाब किया। भारत ने कहा कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है।

बीजेपी नेता गौरव भाटिया और पाकिस्तानी पत्रकार अल्ताफ उस्मान ।

जेनेवा में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग (यूएनएचआरसी) की बैठक के दौरान भारत के खिलाफ पाकिस्तान ने जमकर झूठ बोला। कश्मीर में भारत पर मानवाधिकार उल्लंघन का आरोप लगाते हुए पाकिस्तान ने 115 पन्ने का डॉजियर तैयार किया था। पाकिस्तान के इस झूठ को बेनकाब करने के लिए भारत ने जमकर तैयारी की और पाकिस्तान को बेनकाब किया। भारत ने कहा कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है।

इस दौरान टीवी चैनल्स पर इस मुद्दे पर बहस के दौरान पाकिस्तान के पत्रकार और बीजेपी नेता गौरव भाटिया के बीच तिखी बहस हुई। गौरव भाटिया ने पाकिस्तान के रैवेये पर निशाना साधा तो उन पर पलटवार करते हुए पाकिस्तानी पत्रकार ने हदें पार कर दी।

दरअसल टीवी एंकर ने पाकिस्तान के पत्रकार से कहा कि क्या आपको लगता है कि  पाकिस्तान जैसे देश को मानवाधिकार  के मुद्दे पर बोलने का अधिकार है?
जिस पर जवाब देने के दौरान पाकिस्तान पत्रकार ने भारत को उल जलूल जवाब दिया। इसके बाद टीवी एंकर ने बीजेपी नेता गौरव भाटिया से सवाल किया। जिसके जवाब पर गौरव भाटिया ने कहा कि भारत में कश्मीर के लोगों के अस्पताल बनाए गए हैं मेडिकल कॉलेज बनाए गए हैं और लोगों को सुविधाएं दी गई है लेकिन पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर में लोगों को बुनियादी सुविधा नहीं दी गई है।

पाकिस्तान में बच्चे पैदा होते हैं तो उनको हथियार दिया जाता है और भारत के खिलाफ लड़ने को कहा जाता है। इसपर पाकिस्तान के पत्रकार भड़क गए और बोले – भारत में बच्चो को पैदा होने के बाद आरएसएस में कारसेवक बना दिया जाता है या फिर बच्चों को पैदा करने के बाद उन्हें मोदी भक्त होने की कसम खिलाई जाती है?
इससे पहले यूनाइटेड नेशनल ह्यूमन राइट्स काउंसिल (यूएनएचआरसी) के 42वें सत्र को संबोधित करने के बाद पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने जम्मू और कश्मीर को भारत का हिस्सा बताया। उन्होंने कहा कि ‘जम्मू और कश्मीर भारत का राज्य’ है। उन्होंने पत्रकारों को बताया, “भारत ने दुनिया को बताया है कि वहां (जम्मू और कश्मीर) चीजें और जीवन सामान्य हो गया है।

अगर चीजें वाकई में सामान्य हो गई हैं, तब वे अंतर्राष्ट्रीय मीडिया, अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं, सिविल सोसायटी संगठनों को घाटी में क्यों नहीं जाने दे रहे हैं?” वह आगे बोले, “वे (भारतीय) उन लोगों को भारत के जम्मू और कश्मीर की जमीनी हकीकत क्यों नहीं दिखाने दे रहे हैं? वे लोग झूठ बोल रहे हैं। अगर एक बार कर्फ्यू हट गया, तब सच्चाई सबके सामने आ जाएगी।”

Next Stories
1 IAS अधिकारी के इस्तीफे पर बोले बीजेपी नेता अनंत हेगड़े- पाकिस्तान चले जाओ
2 Ola, Uber को मंदी का कारण बताने पर ट्रोल हुईं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण
3 पाकिस्तान ने UN में दी धमकी- जम्मू और कश्‍मीर में हो सकता है ‘नरसंहार’, आर्मी चीफ ने भी कीं भड़काऊ बातें
ये पढ़ा क्या?
X