ताज़ा खबर
 

डिबेट मे बीजेपी प्रवक्ता से बोले मुस्लिम नेता मेरे तो दो बच्चे हैं, अपनी बताओ, झल्ला उठीं एंकर- बच्चे गिनने नहीं बैठी हूं

दोनों प्रवक्ताओं को आपस में बच्चों की गिनती पर बहस करता देख एंकर बीच में टोकते हुए कहती हैं 'मैं यहां प्रवक्ताओं के बच्चे गिनने के लिए नहीं बैठी।

Author नई दिल्ली | Updated: August 16, 2019 10:33 PM
एंकर ने कहा कि वह यहां स्टूडियो में बच्चे गिनने नहीं बैठी हैं। फोटो: Video Grab Image

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले से जनसंख्या नियंत्रण की बात कही। पीएम ने कहा कि छोटा परिवार रखना भी देशभक्ति का प्रतीक है। प्रधानमंत्री ने जनसंख्या विस्फोट को लेकर देश में सामाजिक जागरुकता लाने की बात कही। पीएम ने अपने संबोधन में जनसंख्या को नियंत्रण करने के संकेत दिए। उन्होंने कहा कि हमारे यहां बेतहाशा जनसंख्या विस्फोट हो रहा है। पीएम के भाषण के बाद कहा जा रहा है कि सरकार जनसंख्या नियंत्रण के लिए कानून बनाएगी।

इस मुद्दे पर आज तक न्यूज चैनल के लाइव डिबेट शो ‘हल्ला बोल’ में जोरदार चर्चा हुई। डिबेट के दौरान एएमआईएम प्रवक्ता और बीजेपी प्रवक्ता के बीच किसके परिवार में कितने बच्चे हैं इसको लेकर जमकर बहस हुई। डिबेट को मुद्दे से भटकता देख शो की एंकर झल्ला उठीं। एंकर ने कहा कि वह यहां स्टूडियो में बच्चे गिनने नहीं बैठी हैं।

दरअसल डिबेट की शुरुआत में शो की एंकर अंजना ओम कश्यप ने सीधा सवाल किया कि ‘देश की उम्मीदें बहुत ज्यादा हैं। प्रधानमंत्री ने लाल किले की प्राचीर से जिक्र किया है कि जनसंख्या विस्फोट इस देश की चिंता होनी चाहिए। इसीलिए हमें इस तरफ सजग होना है लकिन यह कैसे होगा। क्या सरकार सिर्फ पॉलिसी के स्तर पर सोच रही है या फिर सरकार कोई कानून भी ला सकती है?

एंकर के इतना पूछते ही बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा कहते हैं ‘देखिए अंजना जी मैं इतना ही कहना चाहूंगा कि पीएम ने अपने भाषण में जिस एक शब्द का इस्तेमाल किया उस पर गौर करने की आवश्यकता है। प्रधानमंत्री ने स्व:प्रेरण शब्द का इस्तेमाल किया। जिसका अंग्रेजी ट्रांसलेशन वोलेंटरी (voluntary) होता है। पीएम ने कहा कि देश की जनसंख्या बेतहाशा बढ़ रही है अगर हम सीमित संसाधन का इस्तेमाल करने चाहते हैं तो आबादी नियंत्रित होनी चाहिए। हमें स्व:प्रेरण से परिवार नियंत्रित कर देशभक्ति करनी चाहिए।’

बीजेपी प्रवक्ता के इतना कहते है एंकर पलटवार कर कहती हैं ‘क्या पीएम के ऐसा बोलने से जनसंख्या नियंत्रित हो जाएगाी? इस पर पात्रा कहते हैं कि कानून बनना चाहिए या नहीं मैं अभी कुछ नहीं कह सकता।’ इस दौरान अंजना पैनल में शामिल एआईएमआईए प्रवक्ता आसमि वकार से पूछती हैं ‘क्या परेशानी है पीएम की सोच में? अगर वे कहते हैं कि जनसंख्या नियंत्रण पर इस देश को सोचना चाहिए?

प्रधानमंत्री ने कहा कि जो लोग देशभक्त हैं वह फैमिल प्लानिंग और कम बच्चों की बात करते हैं। वहीं दूसरी तरफ आरएसएस की सुप्रीम लीडर्स से लेकर साक्षी महाराज (सांसद) कहते हैं कि लोगों को 10-10 बच्चे पैदा करने चाहिए।’ वकार के इतने कहते ही संबित पात्रा बीच में कूद पड़ते हैं और कहते हैं पीएम ने यह नहीं कहा कि जो लोग कम बच्चे पैदा करते हैं वह देशभक्त होते हैं। पीएम ने कहा है कि एक वर्ग ऐसा है जो अपने परिवार को सीमित रखते हैं यह भी देशभक्ति है।’

इसके बाद वकार कहते हैं ‘अगर आप कानून ला रहे हैं और आपने पूरा मन बना लिया है तो आपको ऐसा करने से कोई रोक नहीं सकता। लेकिन मैं आपको बता दूं कि मेरे तो दो बच्चे हैं और मैं बहुत खुशनसीब हूं।’ एआईएमआईएम प्रवक्ता के इतना कहते ही बीजेपी प्रवक्ता कहते हैं कि ‘आपसे किसने पूछा कि आपके कितने बच्चे हैं?’ इस पर वकार कहते हैं अब आप अपने बता दीजिए हो सकता है कि आपके चार बच्चे हो।’

दोनों प्रवक्ताओं को आपस में बच्चों की गिनती पर बहस करता देख अंजना ओम कश्यप झल्ला उठती हैं और बीच में टोकते हुए कहती हैं ‘मैं यहां प्रवक्ताओं के बच्चे गिनने के लिए नहीं बैठी। कैसी बात करते हैं आप लोग। आप पार्टी की लाइन बताइए न। देखिए फिर आगे क्या हुआ :-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ देश के 200 लेखकों-एक्टिविस्ट्स ने खोला मोर्चा, बोले- 370 हटा लोकतंत्र का उड़ाया मजाक
2 UNSC में जम्मू और कश्मीर पर बैठक संपन्न: चीन और पाकिस्तान को करारा झटका, रूस बोला- यह द्विपक्षीय मामला
3 VIDEO: MP के पूर्व CM की दरियादिली, काफिला रोक रोड पर घायल शख्स को पहुंचवाया अस्पताल, खुद एंबुलेंस में चढ़ाया