ताज़ा खबर
 

कांग्रेस समर्थक ने कश्मीर में पत्रकारों से धक्कामुक्की की बात उठाई तो बोले शो के एंकर- शुक्रिया, पर आपसे नहीं चाहिए ज्ञान

टीवी शो में जब कांग्रेस समर्थक राजनीति विश्लेषक ने कश्मीर में पत्रकारों से धक्कामुक्की की बात उठाई तो शो के एकंर ने उन्हें दो टूक जवाब देते हुए कहा हमें आपसे ज्ञान नहीं चाहिए।

Author नई दिल्ली | Updated: August 24, 2019 9:17 PM
कांग्रेस समर्थक सुभ्रांश राय और एंकर रोहित सरदाना। फोटो: Facebook/ जनसत्ता

आर्टिकल 370 के अधिकतर प्रावधानों को खत्म करने के बाद कश्मीर घाटी की स्थिति का जायजा लेने के लिए दिल्ली से पहुंचे विपक्षी दलों के 11 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को प्रशासन ने शनिवार को श्रीनगर हवाई अड्डे से बाहर जाने की अनुमति नहीं दी। प्रतिनिधिमंडल में आठ राजनीतिक दलों- कांग्रेस, माकपा, भाकपा, द्रमुक, राकांपा, जद (एस), राजद और टीएमसी के प्रतिनिधि शामिल थे। हवाई अड्डे से बाहर जाने की अनुमति नहीं मिलने पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि ‘यह बहुत दुखद है लेकिन हमारे साथ मीडिया के साथ भी दुर्व्यवहार किया गया, उनमें से कुछ लोगों को पीटा भी गया।’

इसी मुद्दे पर आज तक न्यूज चैनल के लाइव टीवी शो ‘दंगल’ में जब कांग्रेस समर्थक राजनीति विश्लेषक सुभ्रांश राय ने कश्मीर में पत्रकारों से धक्कामुक्की की बात उठाई तो शो के एकंर रोहित सरादाना ने उन्हें दो टूक जवाब देते हुए कहा हमें आपसे ज्ञान नहीं चाहिए।

डिबेट के दौरान कश्मीर मुद्दे पर सुभ्रांश राय बेहद आक्रमकता के साथ कहते हैं ‘जो 11 लोग वहां गए वह तो राजनीतिक दल का प्रतनिधित्व करते हैं। लेकिन लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पत्रकारों को वहां क्यों नहीं जाने दिया गया। और उनके साथ धक्कामुक्की और मारपीट की घटना क्यों हुई? क्या वो इलाका अशांत था। क्या वहां ऐसा कुछ था जो उनके कैमरे में कैद हो जाता। क्या वे लोग अपने कैमरे में कोई मशीनरी ले जा रहे थे। या फिर बाहर का नजारा इतना असंवेदनशील था कि कहीं उनके कैमरे में कैद न हो जाए। लोकतंत्र में किसी को यह अधिकार नहीं दिया गया है कि वह किसी कलम के सिपाही के साथ मारपीट करे।’

कांग्रेस समर्थक के इतना कहते ही एंकर उन्हें बीच में रोक लेते हैं। इसके बाद उन्हें दो टूक जवाब देते हैं। वह कहते हैं ‘मुझे लगता है कि आपने मान लिया है कि आप अपनी पार्टी के नाम पर खेलेंगे तो हार जाएंगे। इसलिए आप पत्रकारों की अंगुली पकड़कर खेलने लगे।’ एंकर के इतना कहते ही सुभ्रांश राय कहते हैं ‘ये आपकी सोच है।’ इसके बाद रोहित सरदाना कहते हैं ‘आप एडिटर्स गिल्ड को पत्र लिखिए यहां पर चिल्लाने से कुछ नहीं होगा। मुझे अच्छा लग रहा है कि आपके दिल में पत्रकारों के साथ हुई धक्कामुक्की के लिए दर्द है। क्योंकि आप जिस पार्टी का पक्ष रख रहे हैं उसने तो आधी रात को पत्रकारों को घरों से निकालकर जेलों में ठूस दिया था और कई-कई साल तक बंद रखा था।’

इतने में सुभ्रांश राय पलटवार करते हुए बोलते हैं ‘चलिए ठीक है मैं एडिटर गिल्ड को पत्र लिखूंगा लेकिन इससे पहले आपका फर्ज बनता है कि आप अपने पत्रकारों के लिए खुद पत्र लिखें।’ कांग्रेस समर्थक के इतना कहते ही सरदाना उन्हें दो टूक जवाब देते हुए कहते हैं ‘हमें जो करना है उसके लिए किसी कांग्रेस पार्टी के किसी समर्थक से ज्ञान नहीं चाहिए।’ देखिए डिबेट में आगे क्या हुआ:-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 राहुल गांधी को लौटाने पर बोले J&K गवर्नर- मैंने तो उन्हें भलमनसाहत में बुलाया था, पर वो तो राजनीति करने लगे
2 वित्त मंत्री के कदम से संतुष्ट नहीं बीजेपी सांसद, बोले- 10 दिन बाद आ रही मेरी किताब, पढ़ लेना अर्थव्यवस्था के सारे उपाय
3 बिहार में सीट शेयरिंग हो या राफेल की ढाल, इन बड़े फैसलों के लिए याद किए जाते रहेंगे अरुण जेटली