ताज़ा खबर
 

ये पत्थरबाजी क्यों? रोहित सरदाना ने पूछा तो राकेश टिकैत बोले- हकीम ने बताया है कि इसी समय प्रोग्राम करो?

हरियाणा के करनाल के पास एक गांव में सीएम मनोहर लाल खट्टर की किसानों के साथ मीटिंग रद्द करनी पड़ गई। किसानों ने सीएम खट्टर का हैलिकॉप्टर कार्यक्रम स्थल पर लैंड ही नहीं होने दिया।

rakesh tikait, naresh tikait, bhartiya kisaan unionभाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत।

आज तक पर डिबेट के दौरान एंकर ने किसान नेता राकेश टिकैत से पूछा कि जब केंद्र सरकार से आपकी कृषि कानूनों को लेकर बातचीत जारी है और अब तक आंदोलन शांतिपूर्ण रहा है तो सीएम खट्टर के कार्यक्रम में तोड़फोड़ क्यों की गई? इस पर राकेश टिकैत ने कहा कि सीएम को जब पता है कि किसानों में गुस्सा है। तो वे चंडीगढ़ में रहकर काम करते उनको वहां जाने की जरूरत क्या है। किसान दिल्ली में बैठे हुए विरोध कर रहे हैं तो गांव में जाकर अलग से किसानों को क्या समझाने की कोशिश की जा रही है। टिकैत ने कहा कि क्या खट्टर को किसी हकीम ने बताया था कि तुम्हें इसी समय अपना कार्यक्रम करना है?

टिकैत ने कहा कि सीएम खट्टर को बात करनी है तो दिल्ली में हमारे पास आकर बात कर लें। हम तो यहां दिल्ली में विरोध कर रहे हैं। हम उन्हें अपनी बात रखने का मंच भी देंगे। किसानों को दिल्ली आने से भी रोका जा रहा है। टिकैत ने कहा कि जब मामला किसानों और केंद्र सरकार है तो हरियाणा सरकार बीच में क्यों आ रही है। क्यों किसानों को दिल्ली आने से रोका जा रहा है? क्या हरियाणा सरकार ये दिखाना चाहती है कि वह भारत सरकार की सबसे ज्यादा वफादार है?

इस पर बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि ये सारा काम गुरनाम सिंह चढूनी का है जिसने कि किसानों को भड़काया है। गुरनाम सिंह चढूनी किसका एजेंट है ये देखने वाली बात है। प्रवक्ता ने टिकैत से कहा कि ऐसे लोगों से आपको आंदोलन को बचाने की जरूरत है। बता दें कि हरियाणा के करनाल के पास एक गांव में सीएम मनोहर लाल खट्टर की किसानों के साथ मीटिंग रद्द करनी पड़ गई। किसानों ने सीएम खट्टर का हैलिकॉप्टर कार्यक्रम स्थल पर लैंड ही नहीं होने दिया।

इस दौरान किसानों का पुलिस के साथ टकराव हुआ और विरोध कर रहे किसानों ने कार्यक्रम स्थल पर तोड़फोड़ की। कुर्सियां इधर उधर फेंक दी गई, पोस्टर फाड़े गए। माना जा रहा है कि सीएम के विरोध की योजना कुंडली बॉर्डर पर बनी थी। किसान नेता गुरनाम चढूनी ने विरोध करने की अपील किसानों से की थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 47 दिन में किसान आंदोलन के बीच बस गई टेंट सिटी, बोले पन्नू- हटने को कहेगा SC, फिर भी न हटेंगे
2 बेटे ने कार चला ली तो लाल बहादुर शास्त्री ने Km के हिसाब से पैसा सरकारी खाते में जमा कराया- जानें पूर्व PM के किस्से
3 बांदा यौन शोषण केसः इंजीनियर ने 70 बच्चों को बनाया शिकार, पत्नी भी देती थी साथ- CBI जांच में खुलासा; पीड़ितों को HIV होने का भी शक
ये पढ़ा क्या?
X