ताज़ा खबर
 

डिबेट में संबित पात्रा से भिड़े सपा प्रवक्ता तो बीजेपी नेता ने अनुराग को बताया कान के लिए खतरा, बोले ये टी1 और टी2

जब बीएसपी नेता टोकने लगे तो संबित पात्रा ने कहा कि टी 1 और टी 2 भाइयों को देखिए। दोनों तुष्टीकरण भाई बोलने नहीं देंगे।

सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया और भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के बीच जमकर बहस हो गयी। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

आज तक पर डिबेट के दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा समाजवादी पार्टी के नेता से कहने लगे कि आप वही लोग हैं जो कहते थे कि 26/11 हमला पाकिस्तान ने नहीं आरएसएस के लोगों ने किया है। ये वही लोग हैं जो हर मामले में पाकिस्तान को क्लीन चिट दे देते हैं। डिबेट में संबित पात्रा सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया को कान के लिए खतरा बताने लगे। इस बीच जब बीएसपी नेता टोकने लगे तो संबित पात्रा ने कहा कि टी 1 और टी 2 भाइयों को देखिए। दोनों तुष्टीकरण भाई बोलने नहीं देंगे।

बता दें कि राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) ने भारत के खिलाफ हिंसक जिहाद छेड़ने के लिए देश में भोलेभाले युवाओं को कट्टरपंथ का पाठ पढ़ाने और उनकी भर्ती करने की आतंकी संगठन आईएसआईएस की साजिश में कथित तौर पर संलिप्त रहने को लेकर दक्षिण कश्मीर से तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। एनआईए प्रवक्ता ने सोमवार को बताया कि जांच एजेंसी द्वारा सात स्थानों पर छापे मारने के बाद तीन लोगों, उमर निसार, तनवरी अहमद भट और रमीज अहमद लोन को रविवार रात गिरफ्तार किया गया। वे सभी दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग स्थित अचबल के रहने वाले हैं।

यह मामला एनआईए ने भारतीय दंड संहिता और गैर कानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम के विभिन्न प्रावधानों के तहत 29 जून को दर्ज किया था। विभिन्न युद्धग्रस्त क्षेत्रों से आईएसआईएस आतंकवादियों के साथ भारत में संचालित हो रहे आईएसआईएस सदस्यों छद्म ऑनलाइन पहचान के जरिए एक नेटवर्क तैयार किया है, जिसमें आईएसआईएस से संबंधित दुष्प्रचार सामग्री प्रसारित की जा रही है ताकि युवाओं को कट्टरपंथ का पाठ पढ़ाया जा सके और आतंकी संगठन में युवाओं की भर्ती की जा सके।


प्रवक्ता ने बताया कि इस सिलसिले में एक भारत केंद्रित ऑनलाइन दुष्प्रचार सामग्री मासिक आधार पर प्रकाशित की गई ताकि भोलेभाले युवाओं को उकसाया जा सके और उन्हें कट्टरपंथ के रास्ते पर ले जाया जा सके।

गिरफ्तार आरोपियों के परिसरों में छापेमारी के दौरान एनआईए ने बड़ी संख्या में आपत्तिजनक दस्तावेज , कई डिजिटल उपकरण और आईएसआईएस के ‘लोगो’ वाले टी शर्ट जब्त किये।

जब्त सामग्री की शुरूआती जांच से यह खुलासा हुआ है कि वे आईएसआईएस के सक्रिय सदस्य हैं और ऑनलाइन पत्रिका (वीओएच) के जरिए उकसाने वाली सामग्री फैलाने के लिए साइबर जगत का इस्तेमाल कर रहे हैं।

Next Stories
1 जब डिबेट में बोले कांग्रेस नेता खुर्शीद-अगर हाथ और पेट काटना पड़े तो संबित पात्रा के पास ही जाएंगे, जानिए पूरा मामला
2 हरियाणा के पटौदी की महापंचायत में भड़काऊ भाषण देने पर युवक के खिलाफ FIR,सीएए प्रदर्शन में भी चलाई थी गोली
3 NASA ने शेयर की भारतीय इंटर्न की हिंदू देवी-देवताओं संग तस्वीर, सोशल मीडिया पर मच गया बवाल
ये पढ़ा क्या?
X