ताज़ा खबर
 

VIDEO: संबित पात्रा का तंज- नहीं पता था ममता बड़ी वकील हैं; डिबेट में चिल्लाने लगे TMC नेता; एंकर ने झाड़ा- शाहीन बाग जा भाषण दें

आज तक न्यूज चैनल के लाइव डिबेट शो 'दंगल' में डिबेट की गई तो बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉक्टर संबित पात्रा ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को बड़ी 'वकील' करार दिया। ममता के खिलाफ बीजेपी प्रवक्ता के मुखर होने पर पैनल में शामिल टीएमसी नेता तौसीफ खान चिल्लाने लगे तो एंकर ने उन्हें जमकर लताड़ लगाई।

टीएमसी नेता तौसीफ खान और बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉक्टर संबित पात्रा। फोटो: Touseef Khan/Twitter/PTI

संशोधित नागरिकात कानून (सीएए), एनआरसी और एनपीआर को लेकर राज्य सरकारें केंद्र के खिलाफ नजर आ रही हैं। पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़, राजस्थान, मध्यप्रदेश समेत कई राज्य इसके खिलाफ हैं। वहीं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि वह राज्य में राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) की प्रक्रिया को नहीं रोकेंगे। ठाकरे ने आश्वासन दिया कि वह एनपीआर के सभी कालम की जांच खुद करेंगे। उन्होंने कहा कि एनपीआर तैयार करने की प्रक्रिया में महाराष्ट्र में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। राज्य सरकारों का कहना है कि वह सीएए, एनआरसी और एनपीआर को अपने यहां लागून नहीं होने देंगे। वहीं केंद्र सरकार का कहना है कि राज्यों को संविधान यह अधिकार नहीं देता कि वह केंद्र के फैसलों को नजरअंदाज कर सकें।

इस मुद्दे पर जब आज तक न्यूज चैनल के लाइव डिबेट शो ‘दंगल’ में डिबेट की गई तो बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉक्टर संबित पात्रा ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को बड़ी ‘वकील’ करार दिया। ममता के खिलाफ बीजेपी प्रवक्ता के मुखर होने पर पैनल में शामिल टीएमसी नेता तौसीफ खान चिल्लाने लगे तो एंकर ने उन्हें जमकर लताड़ लगाई।

दरअसल डिबेट की शुरुआत में पात्रा एनपीआर में पूछी जाने वाली जानकारियों को लेकर राजनीतिक दलों और लोगों के बीच फैले भ्रम को दूर करने की कोशिश करते हैं। वह कहते हैं ‘लोगों में भ्रम की स्थित है। एनपीआर में कोई दस्तावेज नहीं मांगा जाएगा स्वयं गृह मंत्री ने यह बात कही है। जानपूछकर झूठ का निर्माण किया जा रहा है ताकि मोदी जी के ऊपर हमला किया जा सके।’

इसपर टीएमसी नेता कहते हैं ‘देखिए यह एक कानूनी मामला है और जब एक वकील कानूनी मामले को पढ़ता है तो उसे कोई कन्फ्यूजन नहीं होता। कन्फ्यूजन तब होता है जब कोई डॉक्टर किसी कानूनी मामले को पढ़ता है। आप ये सोचते हैं कि देश के सभी लोग आपकी तरह व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी के ग्रैजुएट हैं तो इस गलतफहमी से उठ जाइए। आपने जो ये गुरूर पाल कर रखा है न इसकी वजह से आप लगातार चुनाव हार रहे हैं।’

तौसीफ खान के इतना कहते ही पात्रा भड़क उठते हैं और पलटवार करते हुए कहते हैं ‘ममता बनर्जी देश की इतनी बड़ी वकील हैं मुझे नहीं पता था। आप मुझपर पर्सनल अटैक न करें और अपनी बात बोलते रहें।’

टीएमसी प्रवक्ता के इतना कहते ही शो के एंकर रोहित सरदाना उन्हें बीच में ही टोक देते हैं और कहते हैं ‘तौसीफ आप इस वक्त आम आमदी पार्टी के चीयरलीडर की तरह बात कर रहे हैं जबकि आप एक राजनीतिक विश्लेषक के तौर पर बैठे हैं। आप चले गए व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी पर जैसे की आप खुद राजा हरिशचंद्र के खानदान से आते हो। आप जो बोलोगे वो सत्य मान लिया जाएगा। सब अपना-अपना तर्क रख दीजिए एक दूसरे को नीचा दिखाने की बजाय। आप दावा करते हैं कि मैं ही पढ़ा लिखा हूं बाकी सब अनपढ़ गवार हैं। आपको लगता है कि वकील से बात करनी है तो मैं वकील से बात करवा देता हूं आपकी। आप ऐसा भाषण शाहीन बाग में जाकर दें। देखिए डिबेट में आगे क्या हुआ:-

Next Stories
1 पाकिस्तान के कराची शहर में हुआ ‘रहस्यमय’ गैस का रिसाव, 14 लोगों की मौत
2 CAA, NRC विवादः गुवाहाटी HC ने किया साफ- अब नागरिकता के प्रमाण के तौर पर नहीं चलेंगे PAN, बैंक स्‍टेटमेंट या जमीन की रसीद
3 कश्मीरी पंडितों से मिले अमित शाह, कहा- कश्‍मीर में फिर बसाएंगे टाउनशिप व मंदिर
ये पढ़ा क्या?
X