ताज़ा खबर
 

अमरिंदर सिद्धू विवाद पर कांग्रेस प्रवक्ता करने लगे चूहे और दानों की बात, देखिए पूरा मामला

पंजाब कांग्रेस के प्रवक्ता प्रीतपाल सिंह ने कहा, "पंजाब देश का एक बड़ा राज्य है। वहां कांग्रेस पार्टी की सरकार है। इस बार फिर वहां कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने जा रही है। विरोध करने वाले विरोध करते रहेंगे।"

कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू। (एक्सप्रेस फोटो)।

पंजाब समेत पांच राज्यों में अगले साल के शुरू में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इसको लेकर सभी दलों में तैयारियां शुरू हो गई है। इस बीच कई दलों में आपसी कलह और नेताओं में तकरार पार्टी के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। इसमें सबसे प्रमुख है सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी। कांग्रेस पार्टी की अंदरूनी लड़ाई अब खुलकर सामने आ गई है। राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और पार्टी के नेता नवजोत सिंह सिद्धू के बीच मतभेद पार्टी के लिए भारी पड़ रही है।

टीवी चैनल आजतक पर एंकर अंजना ओम कश्यप के साथ डिबेट में पंजाब कांग्रेस के प्रवक्ता प्रीतपाल सिंह ने कहा, “पंजाब देश का एक बड़ा राज्य है। वहां कांग्रेस पार्टी की सरकार है। इस बार फिर वहां कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने जा रही है। विरोध करने वाले विरोध करते रहेंगे, जहां दाने होंगे, वहां चूहे भी रहेंगे।” इस पर एंकर अंजना ओम कश्यप ने उनसे पूछा कि ये चूहे कौन हैं तो उन्होंने कहा कि कई लोग हैं। हालांकि वे कोई नाम नहीं बता सके। कहा कि आम आदमी पार्टी 300 यूनिट बिजली फ्री देने का वादा की है। हमारी सरकार भी दे रही है।

एंकर अंजना ओम कश्यप ने उनसे पूछा कि कब देगी और सबको देगी कि नहीं? इस पर कांग्रेस नेता प्रीतपाल सिंह ने बात को टालने के अंदाज में बोलने लगे। अंजना ने कहा कि आप सवाल का सीधे जवाब क्यों नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि जवाब सीधा ही है।

उधर, 2022 पंजाब चुनाव में कांग्रेस के अभियान को पार्टी की अंदरूनी कलह के खतरे से बचाने के लिए नवजोत सिंह सिद्धू को राज्य में पार्टी प्रमुख बना सकती है। यही नहीं मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के मंत्रिमंडल में भी जल्द ही फेरबदल की संभावना है। लेकिन सूत्रों का कहना है कि राहुल गांधी ने अभी तक उस योजना का समर्थन नहीं किया है, जिसे उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा की मंजूरी मिली है।

दरअसल प्रियंका गांधी के हस्तक्षेप के बाद ही राहुल गांधी और सिद्धू के बीच मुलाकात हो सकी थी। सूत्रों ने यह भी कहा कि प्रियंका गांधी ने “पहल की और राहुल गांधी को सिद्धू से मिलने के लिए मना लिया”।

Next Stories
1 पेट्रोल डीजल के दाम कांग्रेस की देन, हम तो गलतियों को सुधारने की कोशिश कर रहे-बोले बीजेपी सांसद शर्मा
2 सिद्धू से मिलने को तैयार नहीं थे राहुल, प्रियंका ने घर जाकर मनाया तो हुई मुलाकात
3 किसके फेवर से आगे बढ़े हैं? रामदेव से पूछा तो बोले थे- छोड़ दो ये सवाल…
ये पढ़ा क्या?
X