ताज़ा खबर
 

आप विधायक ने कहा- भारत बायोटेक केंद्र के कहने पर दिल्ली को वैक्सीन देने से कर रहा इनकार, संबित दिखाने लगे कागज

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आज आरोप लगाया कि कोवैक्सीन निर्माता भारत बायोटेक ने केंद्र सरकार के इशारों पर दिल्ली सरकार को वैक्सीन की खुराक की आपूर्ति करने से इनकार कर दिया है।

भारत बायोटैक देश भर में कोवैक्सीन की सप्लाई कर रहा है। (एक्सप्रेस फोटो)।

आज तक पर डिबेट के दौरान आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा कहने लगे कि केंद्र सरकार के इशारों पर भारत बायोटैक ने दिल्ली सरकार को कोरोना वैक्सीन मुहैया कराने से इंकार कर दिया है। डिबेट में विधायक ने ये बात कही ही थी कि अचानक बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा एक कागज दिखाने लगे। एंकर ने बीजेपी प्रवक्ता को टोका कि पहले आप नेता की बात पूरी हो जाए। फिर आप बोलिएगा।

क्या है मामला?: दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आज आरोप लगाया कि कोवैक्सीन निर्माता भारत बायोटेक ने केंद्र सरकार के इशारों पर दिल्ली सरकार को वैक्सीन की खुराक की आपूर्ति करने से इनकार कर दिया है। सिसोदिया ने आरोप लगाया कि केंद्र कोविड शॉट्स की आपूर्ति को नियंत्रित कर रहा है। AAP नेता ने कहा कि केंद्र “वैक्सीन का कुप्रबंधन” कर रही है। जवाब में कंपनी ने कहा कि यह “निराशाजनक” है कि कुछ राज्य कंपनी के इरादों के बारे में शिकायत कर रहे हैं।

सिसोदिया ने आज कहा, “कोवैक्सिन निर्माता ने एक पत्र में कहा है कि वह संबंधित सरकारी अधिकारी के निर्देशों के तहत अनुपलब्धता के कारण दिल्ली सरकार को टीके नहीं दे सकते हैं। इसका मतलब है कि केंद्र सरकार वैक्सीन की आपूर्ति को नियंत्रित कर रही है।”


सिसोदिया ने कहा, ‘हमने कोवैक्सिन और कोविशिल्ड की 1.34 करोड़ खुराक मांगी थी। वे कहते हैं कि केंद्र तय करेगा कि किसको कितना टीका मिलेगा।” सिसोदिया ने भारत बायोटेक के अध्यक्ष कृष्णा एला के पत्र को भी ट्विटर पर शेयर किया।

जिसमें लिखा था, “हमारे टीके की अभूतपूर्व मांग रही है और हर महीने उत्पादन में वृद्धि के बावजूद, हम मांग को पूरा करने में असमर्थ हैं। आगे, हम संबंधित सरकारी अधिकारियों के निर्देशों के अनुसार भेजे रहे हैं। इसलिए हम खेद व्यक्त करते हैं।” पत्र में कहा गया है, ”हम आपके द्वारा आवश्यकतानुसार अतिरिक्त आपूर्ति नहीं कर सकते।”

भारत बायोटेक की सह-संस्थापक सुचित्रा एला ने एक ट्वीट में कहा, “10 मई को 18 राज्यों को छोटे शिपमेंट में वैक्सीन भेजी गई हैं। कुछ राज्यों को हमारे इरादों के बारे में सवाल खड़े करता देख दुख होता है। हमारे 50 कर्मचारी कोविड के कारण काम नहीं कर पा रहे हैं। फिर भी हम आपके लिए महामारी लॉकडाउन में 24×7 काम करना जारी रखे हुए हैं। ”

Next Stories
1 फारुक, हेमंत सोरेन समेत विपक्ष के 12 नेताओं ने लिखा पीएम मोदी को पत्र, कोरोना से लड़ाई के लिए सुझाए ये उपाय
2 कोविड पर यूपी सरकार को हाईकोर्ट का कड़ा ऑर्डर- कल तक सभी जिलों में बनाइए सेल, जहां शिकायत कर सके जनता
3 कोरोना: यूपी सरकार बोली- डब्‍ल्‍यूएचओ कर रहा हमारी तारीफ, बीजेपी व‍िधायकों ने ल‍िखा- चौखट पर दम तोड़ रहे मरीज, हम असहाय
ये पढ़ा क्या?
X