ताज़ा खबर
 

कन्नूर यूनिवर्सिटी के दो छात्रों को NIA की हिरासत में भेजा, नक्सलियों से संपर्क रखने के आरोप में पुलिस ने किया था गिरफ्तार

दोनों छात्रों की पहचान एलन शुहैब और थाह फैजल के रूप में हुई है जो लॉ एंड जर्नलिज्म के छात्र हैं।

फाइल फोटो।

केरल में नक्सलवादियों के साथ कथित तौर पर संबंध रखने के आरोप में गिरफ्तार कन्नून यूनिवर्सिटी के दो छात्रों को स्पेशल कोर्ट ने एक दिन के लिए जांच एजेंसी एनआईए की हिरासत में भेजा है। दोनों छात्रों की पहचान एलन शुहैब और थाह फैजल के रूप में हुई है जो लॉ एंड जर्नलिज्म के छात्र हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई की खबर के मुताबिक दोनों छात्रों को पिछले साल नंवबर में प्रदेश के कोझिकोड से गिरफ्तार किया गया। दोनों आरोपियों को बुधवार यानी 22 जनवरी को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले कन्नूर जिले के एक गांव में एक महिला सहित चार संदिग्ध माओवादियों ने सोमवार (20 जनवरी, 2020) को नारे लगाए और पर्चे बांटे और पोस्टर चिपकाए, जिन्हें पकड़ने के लिए पुलिस ने तलाश अभियान शुरू किया है। पुलिस ने बताया कि उन्हें स्थानीय लोगों ने कोट्टियूर के अम्बायथोड में चरमपंथियों की मौजूदगी के बारे में सूचना दी। केरल पुलिस के एक कमांडो बल ‘थंडरबोल्ट’ के साथ पुलिसकर्मी वन क्षेत्र की छानबीन में जुटे हैं।

इसी तरह हाल के दिनों में ही तेलंगाना पुलिस ने उस्मानिया विश्वविद्यालय के तेलुगु विभाग में एसोसिएट प्रोफेसर के पद पर कार्यरत सी. कासिम को माओवादियों से संबंध रखने के आरोप में गिरफ्तार किया। राज्य में सिद्दिपेट के पुलिस आयुक्त डी जोएल डेविस ने यह जानकारी दी। डेविस के मुताबिक कासिम का नाम मुलूगु पुलिस थाने में 2016 में विधि विरुद्ध क्रियाकलाप (निवारण) अधिनियम और अन्य कानून के तहत दर्ज किए गए एक मुकदमे में भी था। उन्होंने कहा, ‘‘मुकदमे में जांच चल रही है और हमें ठोस साक्ष्य भी मिले हैं। हाल ही में कुछ जानकारी भी मिली थी।’’

पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘हमने वारंट लेकर उनके निवास पर तड़के तलाशी ली और कुछ दस्तावेज और इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य भी जब्त किए।’’ उन्होंने कहा कि कासिम के माओवादियों से लगातार संपर्क में होने के पुलिस के पास पर्याप्त साक्ष्य हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कासिम को सात दिन की पुलिस हिरासत में लेने के लिए स्थानीय अदालत में याचिका दायर की गई है ताकि जांच के संबंध में पुलिस उनसे पूछताछ कर सके। इस याचिका पर 22 जनवरी यानी आज सुनवाई होगी।

वहीं बचाव पक्ष के वकील ने कहा कि सिद्दीपेट की अदालत में उनके जमानत के लिए भी याचिका डाली गई है जिस पर कुछ दिनों में सुनवाई होगी। तेलंगाना उच्च न्यायालय ने बीते रविवार को राज्य की पुलिस को निर्देश दिया था कि वह कासिम का संबंध कथित तौर पर माओवादियों से होने के बारे में सबूत पेश करें। (भाषा इनपुट)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 विपक्ष पर भड़के सीएम योगी, कहा- CAA के खिलाफ दुष्प्रचार द्रौपदी के ‘चीरहरण’ जैसा; अमित शाह ने कही यह बात
2 पुल के नीचे मिली TMC नेता की लाश, हावड़ा में पार्टी समर्थकों ने कर दिया चक्का जाम
3 Shaheen Bagh Protest: स्कूली गाड़ियों के लिए खोला रास्ता, बोले- बच्चों के भविष्य की चिंता