ताज़ा खबर
 

जब संसद में बोल रहे थे सीएम योगी आदित्य नाथ तो भाजपा सांसद ने कहा- नरेंद्र मोदी की तरह ये भी सबको चौंकाएंगे

वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई के अनुसार योगी आदित्यनाथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की हिंदुत्व की विचारधारा के नए "पोस्टरब्वॉय" होंगे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ मंगलवार (21 मार्च) को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करते हुए। (PTI Photo)

भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही देश की उनके चयन को लेकर बहस जारी है। योगी के सीएम बनते ही उनके पुराने भड़काऊ भाषण और कमेंट सोशल मीडिया पर शेयर होने लगे। सोशल मीडिया पर कई लोगों ने सीएम योगी पर आपत्तिजनक पोस्ट किए जिनके लिए कुछ पर पुलिस में शिकायत भी दर्ज हुई। लेकिन पार्टी के समर्थक सीएम योगी में पीएम नरेंद्र मोदी का उत्तराधिकारी देखने लगे हैं। ऐसी सोच रखने वालों में आम समर्थक और नए नेता ही  नहीं पार्टी के पुराने सांसद भी हैं।

वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने अपने एक हालिया लेख में पीएम मोदी से सीएम योगी की तुलना करते हुए एक ताजा वाक़या शेयर किया है। राजदीप ने बताया है कि यूपी का सीएम बनने के बाद जब योगी संसद में पहली बार आए तो उनका भाषण सुनकर एक वरिष्ठ भाजपा सांसद ने कमेंट किया कि  “देखो कितना अच्छा बोल रहे हैं, ये भी सबको चौंका देंगे जैसे नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री के तौर किया था।”

राजदीप ने अपने लेख में साल 2001 में नरेंद्र मोदी को गुजरात के सीएम बनाए जाने और 2017 में योगी आदित्यनाथ को यूपी का सीएम बनाए जाने के बीच तुलना की है। राजदीप के अनुसार योगी आदित्यनाथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की हिंदुत्व की विचारधारा के नए “पोस्टरब्वॉय” होंगे। राजदीप के अनुसार आरएसएस ने योगी को सीएम बनाकर उसी तरह का जोखिम लिया है जैसा उसने मोदी को सीएम बनाकर लिया था।

राजदीप ने हिंदुस्तान टाइम्स में प्रकाशित लेख में लिखा है, “साल 2001 में मोदी को गुजरात में भेजते समय आरएसएस को पता था कि वो जोखिम ले रहा है लेकिन उसका प्रयोग काम कर गया और गुजरात हिंदुत्व की असली प्रयोगशाला बन गया। योगी की ताजपोशी से आरएसएस ने पहले से ज्यादा बड़ा जोखिम लिया है लेकिन संघ परिवार के लिए इसका पुरस्कार भी पहले से बड़ा होगा, इससे राजनीतिक रूप से देश के सबसे महत्वपूर्ण प्रदेश में उभरता हिंदू वोट लामबंद होगा।”

राजदीप यूपी चुनाव के नतीजे आने से पहले उस समय विवादों में घिर गये थे जब उन्होंने आखिरी चरण के मतदान से पहले ही अपने लेख में भाजपा को राज्य में बहुमत मिलने की बात लिख दी थी। राजदीप के लेख पर ट्विटर यूजर्स ने काफी तीखी प्रतिक्रिया दी थी। लेकिन इस बार भाजपा समर्थक राजदीप की तारीफ कर रहे थे जबकि वो अक्सर मोदी और भाजपा समर्थकों की आलोचना के ही शिकार होते रहे हैं।

वीडियो: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा- "सूर्य नमस्कार और नमाज एक समान"

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से जुड़ी 10 बातें

Next Stories
1 दिल की आवाज पर बौद्ध धर्म गुरु ने त्यागा संन्यासी जीवन, दिल्ली में रहने वाली बचपन की दोस्त से किया विवाह
2 नेहरू और इंदिरा गांधी के बाद नरेंद्र मोदी भारत के तीसरे सबसे सफल प्रधानमंत्री होंगे: राम चंद्र गुहा
3 हिज्बुल मुजाहिद्दीन कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद 6 साल में सबसे ज्यादा कश्मीरी युवाओं ने पकड़ी आतंक की राह
ये पढ़ा क्या?
X