ताज़ा खबर
 

हिंदू दोस्‍तों संग बाइक पर घूमने गई तो मुस्लिम लड़की को धमकाने पहुंच गए युवक, फोन-पैसे छीने और वीडियो किया सर्कुलेट

युवकों ने लड़की को धमकाने के साथ-साथ मारपीट भी की और उसका फोन-रुपये छीन लिए। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 506, 341, 34, 504, 394 और 323 के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

कर्नाटक के शिवमोगा शहर में कुछ युवकों ने एक मुस्लिम युवती को परेशान किया। युवती का आरोप है कि अपने हिंदू दोस्‍तों संग बाइक पर घूमने पर उन युवकों को आपत्ति थी। युवकों ने लड़की को धमकाने के साथ-साथ मारपीट भी की और उसका फोन-रुपये छीन लिए। युवती ने शिकायत में कहा है कि फोन में स्‍टोर वीडियोज को स्‍थानीय ग्रुप्‍स में भेजा गया। युवकों ने युवती से 2,500 रुपये भी लूट लिए। गुरुवार (22 मार्च) को हुई घटना के बाद उसी रात वे युवक लड़की के घर में घुस गए और अंजाम भुगतने की धमकी दी।

युवती की शिकायत के बाद डोड्डापेटे पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली। टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, रविवार शाम तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई थी। पुलिस ने कहा कि घटना गुरुवार को हुई। शिकायतकर्ता युवती बुर्के में अपनी स्‍कूटी पर कॉलेज जा रही थी। रास्‍ते में उसने अपने दो सहपाठियों- एक लड़का व एक लड़की को बस का इंतजार करते देखा। उन्‍होंने ट्रिपलिंग का फैसला किया। लड़के ने स्‍कूटी चलाना शुरू कर दिया और लड़कियां पीछे बैठ गईं।

जब वे सवाईपल्‍या पहुंचे तो 6 युवकों ने स्‍कूटी रोकी और कथित तौर पर हिंदू सहपाठियों संग घूमने के लिए युवती के साथ अभद्रता की। उन्‍होंने उसका फोन छीन लिया और उसमें स्‍टोर वीडियोज सर्कुलेट कर दिए। युवकों ने युवती के सहयोगियों से पूछताछ की और उनके बारे में जानकारी जुटाई। तीनों ने बताया कि वे सेमिनार में हिस्‍सा लेने कॉलेज जा रहे हैं, पर युवकों ने एक न सुनी।

पुलिस के अनुसार, उसी रात 9.30 बजे, युवकों ने युवती के घर पर धावा बोल दिया और उसे बुरा अंजाम भुगतने की चेतावनी दी। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 506, 341, 34, 504, 394 और 323 के तहत मुकदमा दर्ज किया है। एक अधिकारी ने कहा, ”जांच चल रही है। युवती का कहना है कि वह परेड के समय आरोपियों को पहचान सकती है। हम जल्‍द उन्‍हें गिरफ्तार कर लेंगे।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App