कोरोना: तहसीलदार पहुंचे थे संक्रमित दूल्हे की शादी रुकवाने, गुजारिशों के बाद पिघला दिल; PPE किट पहना कराया विवाह

रतलाम के तहसीलदार नवीन गर्ग का कहना है कि 19 अप्रैल को दूल्हा कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। वो यहां शादी रुकवाने आए थे लेकिन परिजनों की गुजारिश पर शादी को संपन्न कर दिया गया।

MP, Ratlam, CORONA, COVID19 positive groom, Marriage in PPE kits, Viral Videoरतलाम में पीपीई किट पहनाकर संपन्न कराया गया विवाह (फोटोः ट्विटर वीडियो@ani)

कोरोना संकट के बीच अजीबोगरीब वाकये सामने आ रहे हैं। एमपी के रतलाम में तहसीलदार पहुंचे तो थे कोरोना संक्रमित की शादी रुकवाने। लेकिन परिजनों की गुजारिशों के बाद उनका दिल पिघल गया। उसके बाद पीपीई किट पहनाकर सात फेरे कराए गए। घटना से जुड़ा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

रतलाम के तहसीलदार नवीन गर्ग का कहना है कि 19 अप्रैल को दूल्हा कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। वो यहां शादी रुकवाने आए थे लेकिन परिजनों की गुजारिश पर शादी को संपन्न कर दिया गया। उन्होंने बताया कि जोड़े ने पीपीई किट पहनकर शादी की ताकि संक्रमण ना फैले। शादी के वीडियो में दूल्हा-दुल्हन से लेकर पंडित समेत बाकी सभी लोग पीपीई किट पहने हुए दिखाई दिए।

वायरल वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि दूल्हा-दुल्हन पीपीई किट पहनकर सात फेरे ले रहे हैं। मामले से जुड़े लोगों का कहना है कि पुलिस को कोरोना संक्रमित युवक की शादी होने की सूचना मिल गई थी। इसके बाद पुलिस कोरोना संबंधी दिशा-निर्देशों के तहत इस शादी को रुकवाने के लिए मौके पर पहुंची थी। परिजनों का आग्रह देखने के बाद पुलिस व तहसीलदार ने बड़े अफसरों से बात की।

सूत्रों का कहना है कि आला अफसरों ने भी मामले की नजाकत को देखते हुए शादी कराने के लिए हरी झंडी दे दी। लेकिन इस शर्त पर कि विवाह में कम से कम संख्या में लोग मौजूद होंगे और सभी को पीपीई किट पहननी होगी। उसके बाद प्रशासन ने की पीपीई किट का इंतजाम कर वर-वधू को सात फेरे दिलवाए।

गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। हालात इतने बदतर हो चुके हैं कि सारा सिस्टम फेल साबित हो रहा है। पिछले छह दिनों से रोजाना तीन लाख से ज्यादा केस सामने आ रहे हैं। ऐसे में जागरूकता से ही महामारी पर काबू पाया जा सकता है। लेकिन कई मामलों में देखा जा रहा है कि लोग अभी तक असावधानी बरत रहे हैं। न तो वो मास्क पहन रहे हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं। इससे हालात बिगड़ रहे हैं।

Next Stories
1 भगोड़े माल्या ने जब पत्रकार को दिखाया था तेवर, कहा था- मैं मीडिया से बात नहीं करता, तुम जज नहीं
2 रवजोत कौर ग्रेवालः डेंटिस्ट से सिविल सेवा में ली एंट्री, पंजाब PCS परीक्षा में पाई थी रैंक-1; ऐसी है कहानी
3 फैलता, बढ़ता रहा COVID-19, पर ECI को महसूस ही न हुई ‘संक्रमण की सुनामी’
यह पढ़ा क्या?
X