ताज़ा खबर
 

7th Pay Commission: नए साल में छह करोड़ लोगों के PF खाते में जाएगा बढ़ा हुआ ब्याज, नोटिफिकेशन जारी

प्रोविडेंट फंड पर मिलने वाला ब्याज दो किस्त में नहीं बल्कि एक बार में ही दे दिया जाएगा।

Author Edited By subodh gargya नई दिल्ली | December 31, 2020 7:06 PM
7 Pay Commission, 7 Pay Commission latest news, 7 Pay Commission update

इस साल के लिए 6 करोड़ से अधिक पीएफ धारकों को पीएफ राशि में 8.5 प्रतिशत ब्याज मिलेगा। श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने आज कहा, ” मुझे आपको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि एक अधिसूचना जारी की गई है और वर्ष 2019-2020 के लिए हमारे 6 करोड़ से अधिक ग्राहकों को पीएफ राशि में 8.5 प्रतिशत ब्याज मिलेगा। हमने ऐसी व्यवस्था की है कि आप आज से ये लाभ प्राप्त करना शुरू कर देंगे।”

उन्होंने कहा, ”हम जानते हैं कि 2020 में परिस्थितियाँ हमारे अनुकूल नहीं थीं। लोग हैरान थे जब 2020 की शुरुआत में, हमने कहा था कि हम वर्ष 2019-2020 के लिए भविष्य निधि राशि पर 8.5 प्रतिशत ब्याज देने की कोशिश करेंगे। आज मैं उस वादे को पूरा करने के लिए यहां हूं।”

उन्होंने कहा, “पीएम मोदी ने देखा कि EPFO अच्छा काम कर रहा है और उन्होंने 8.5 फीसदी ब्याज दर की मंजूरी दे दी। जिसे लेकर आज नोटिफिकेशन जारी किया गया है। आज देश भर में 6 करोड़ पीएफ धारकों को ब्याज दिया गया है।”

प्रोविडेंट फंड पर मिलने वाला ब्याज दो किस्त में नहीं बल्कि एक बार में ही दे दिया जाएगा। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO)  की वित्तीय स्थिति अभी काफी अच्छी है। बता दें कि ईपीएफओ देश भर में कर्मचारियों को भविष्य के लिए सुरक्षा मुहैया कराता है।

श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने कहा कि ईपीएफओ के सब्सक्राइबर जिनको कि साल भर में पीएफ पर ब्याज मिलता है अब उन्हें यह एक किस्त में दे दिया जाएगा। इस कदम को लेकर वित्त मंत्रालय की भी सहमति मिल चुकी है।

बता दें कि इस साल सितंबर में EPFO ने कहा था कि महामारी से प्रबंधन से जुड़ी समस्या हो रही है। हालांकि EPFO को एक्सचेंज ट्रेडेड फंड की बिक्री से अच्छा रिटर्न मिला है। अब सभी EPFO सब्सक्राइबर अपनी अकाउंट स्टेटमेंट में देख सकेंगे कि उन्हें 8.5 प्रतिशत ब्याज मिला है। ये ब्याज उनको भी मिलेगा जो कि इस साल के अंत में रिटायर हो रहे हैं।

गंगवार ने कहा कि 2019-20 के लिए पूंजीगत लाभ के लिए 0.35 प्रतिशत ब्याज के भुगतान की प्रक्रिया पूरी हो गई है। 8.5 प्रतिशत के ब्याज में ऋण आय से 8.15 प्रतिशत और ईटीएफ की बिक्री से पूंजीगत लाभ के रूप में 0.35 प्रतिशत की शेष राशि शामिल है।

 

Next Stories
1 AAP नेता की पत्नी ने बच्चों सहित राष्ट्रपति से मांगी इच्छामृत्यु, पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप
2 पाकिस्तान की महिला बन गई यूपी के गांव की मुखिया, पता चला तो हंगामा, एफआईआर दर्ज
3 केंद्रीय नेता ने समझाया कि एमपी रहोगे तो सरकारी खर्चे से इलाज होगा- गुजरात के बागी सांसद ने वापस लिया बीजेपी से इस्तीफा
कोरोना LIVE:
X