ताज़ा खबर
 

7th Pay Commission: ट्रेड यूनियंस धरने पर, जानिए क्‍या निकल सकता है नतीजा

7th Pay Commission, CPC Latest News: बीजेपी के नेतृत्व वाली एनडीए की केंद्र सरकार के उदासीन रवैये, एंटी-लेबर और सरकारी नीतियों के खिलाफ केंद्रीय ट्रेड यूनियंस दिल्ली स्थित पार्लियामेंट के सामने प्रदर्शन करेगा।

Author नई दिल्ली | November 13, 2017 12:52 PM
यूनियन द्वारा दिया जाने वाला यह धरना अगले तीन दिनों तक चलेगा। (Express File Photo by: Manoj Kumar)

7th Pay Commission: सातवां वेतन लागू होने के बाद मिलने वाली बढ़ी हुई सैलरी में देरी होने के कारण करीब 10 केंद्रीय ट्रेड यूनियन आज यानि गुरुवार से धरने पर हैं। यूनियन द्वारा दिया जाने वाला यह धरना अगले तीन दिनों तक चलेगा। बीजेपी के नेतृत्व वाली एनडीए की केंद्र सरकार के उदासीन रवैय, एंटी-लेबर और सरकारी नीतियों के खिलाफ केंद्रीय ट्रेड यूनियन दिल्ली स्थित पार्लियामेंट के सामने प्रदर्शन करेगा। इसके साथ ही ट्रेड यूनियन द्वारा निर्णय लिया गया है कि वे न्यूनतम मजदूरी, सोशल सिक्यूरिटी और अन्य 12 मुख्य मुद्दों को लेकर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे। ट्रेड यूनियन का कहना है कि सरकार द्वारा निरंतर कर्मचारियों की मांगों को नजरअंदाज किया जा रहा है जिसके कारण उन्हें सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करना पड़ रहा है।

रिपोर्ट्स के अनुसार कयास लगाए जा रहे हैं कि इस तीन दिवसीय धरने में लाखों केंद्रीय कर्मचारी हिस्सा लेंगे। ट्रेड यूनियन के एक बयान के अनुसार यूनियन द्वारा उसके सदस्यों और सरकारी कर्मचारियों को सरकार की एंटी-पीपल, एंटी-नेशनल एक्टिविटीज के खिलाफ देशव्यापी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने के लिए तैयार रहने के लिए कहा गया है।

यहां पढ़ें 7th Pay Commission Latest News Updates:

– अक्‍टूबर में होने वाली नेशनल एनामली कमेटी (एनएसी) की बैठक स्‍थगित कर दी गई है। अभी तक कोई नई तारीख आई है, मगर मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यह बैठक गुजरात व हिमाचल प्रदेश के चुनाव के बाद ही होगी।

– नोटंबदी के एक साल पूरे होने पर मुंबई समेत महाराष्ट्र के कई हिस्सों में सभी प्रमुख विपक्षी दलों, सामाजिक संगठनों, किसान समूहों, मीडियाकर्मियों, गैर सरकारी संगठनों, नागरिक समाज के कार्यकर्ताओं और लोगों ने बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किया। वहीं दूसरी तरफ सरकार ने पिछले साल आठ नवंबर को लिए गए इस फैसले की सराहना करते हुए विज्ञापनों की झड़ी लगा दी। राज्य के अंदर विभिन्न प्रकार से इस फैसले का विरोध किया गया। जिसमें जुलूस, अंत्येष्टि, बरसी स्मारक प्रार्थना, 500 और 1000 रुपये के नोटों का श्राद्ध, मानव श्रंखला, संदेश, गीत, कार्टून शामिल हैं।

– ट्रेड यूनियन्स द्वारा बुलाई गई हड़ताल में आल इंडिया यूनाइटिड ट्रेड यूनियन सेंटर, ट्रेड यूनियन कोर्डिनेशन सेंटर, इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन कांग्रेस, ऑल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस, हिंद मजदूर सभा, सेंटर ऑफ इंडियन ट्रेड यूनियन्स, सेल्फ-एम्पलोएड वुमन्स एसोसिएशन, ऑल इंडिया सेंट्रल काउंसिल ऑफ ट्रेड यूनियन्स, यूनाइटिड ट्रेड यूनियन कांग्रेस और लेबर प्रोग्रेसिव फेडरेशन जैसे यूनियन शामिल हैं।

– बुधवार को पंजाब के होशियारपुर में इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन कांग्रेस ने केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका और जमकर नारेबाजी की।

– केंद्र सरकार द्वारा लागू किए नोटबंदी और जीएसटी और अन्य नीतियों को गलत ठहराते हुए इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन कांग्रेस ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी तो की ही, साथ ही जीएसटी में लोगों की सुविधा के लिए कुछ बदलाव करने की भी मांग की।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App