ताज़ा खबर
 

7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों को DA और पेंशनभोगियों के DR पर हमारी ओर से नहीं जारी किया गया ज्ञापन- वित्त मंत्रालय ने किया साफ

7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में होने वाले इंक्रीमेंट की तीन किश्तें लंबित हैं, शनिवार को इस पर हुई अधिकारियों की बैठक बेनतीजा रही।

Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: June 27, 2021 1:34 PM
डीए-डीआर बढ़ोतरी पर वायरल हो रहे पोस्ट का वित्त मंत्रालय की ओर से किया गया खंडन। (फाइल फोटो- PTI)

7th Pay Commission: वित्त मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते (डीए) में वृद्धि और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई राहत के संबंध में कोई आदेश जारी नहीं किया गया है। मंत्रालय ने एक ट्वीट में कहा कि सोशल मीडिया पर एक दस्तावेज प्रसारित हो रहा है, जिसमें जुलाई 2021 से केंद्र सरकार के कर्मचारियों के डीए और केंद्र सरकार के पेंशनभोगियों को महंगाई राहत की बहाली का दावा किया जा रहा है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, ” यह कार्यालय ज्ञापन (ओएम) फर्जी है। ऐसा कोई ओएम भारत सरकार द्वारा जारी नहीं किया गया है।” बता दें कि वित्त मंत्रालय ने कोविड-19 महामारी के मद्देनजर पिछले साल अप्रैल में केंद्र सरकार के 50 लाख कर्मचारियों और 61 लाख केंद्रीय पेंशनभोगियों के डीए में वृद्धि पर 30 जून 2021 तक के लिए रोक लगा दी थी।

Finance Ministry, DA-DR

डेढ़ साल से नहीं हुआ बढ़े हुए DA का पेमेंट: मौजूदा समय में केंद्रीय कर्मचारियों को 17 फीसदी डीए मिलता है। वित्त मंत्रालय के आदेश के बाद कर्मियों को महंगाई भत्ते के 11 फीसदी तक बढ़ने के आसार थे। दरअसल, महामारी की वजह से सरकार ने 1 जनवरी 2020, 1 जुलाई 2020 और 1 जनवरी 2021 के बकाया डीए की बढ़ोतरी को रोका है। साथ ही पूर्व कर्मचारियों के डीआर की किश्तों का भुगतान भी नहीं हुआ है। यानी केंद्रीय कर्मचारियों के बढ़े हुए डीए की तीन किश्तें लंबित हैं।

DA-एरियर पर हुई अफसरों की बैठक बेनतीजा: इससे पहले शनिवार यानी 26 जून को सातवें वेतन आयोग के तहत मिलने जा रहे बढ़े महंगाई भत्ते (DA) और एरियर समेत कई मुद्दों पर अधिकारियों की बैठक हुई थी। इसमें पिछले साल कोरोना वायरस की वजह से फ्रीज चल रहे डीए को बढ़ाने और उसके पेमेंट पर चर्चा होने की बात कही गई थी।

बैठक में नेशनल काउंसिल ऑफ ज्वाइंट कंसल्टेटिव मशीनरी (JCM), वित्त मंत्रालय के अधिकारी और डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल ट्रेनिंग (DoPT) के प्रतिनिधि इस मीटिंग में शामिल रहे थे। लेकिन बैठक बेनतीजा रही। जिसके बाद वित्त मंत्रालय को बयान जारी कर डीए बढ़कर मिलने की अफवाह को झूठा करार देना पड़ा।

Next Stories
1 PM Modi Mann Ki Baat: कोरोना टीका पर जब ‘मन की बात’ में बोला युवक- मन में डर है, जानें- PM ने कैसे समझाया?
2 कांच की छत, तीन तरफ घूमने वाली कुर्सियां और GPS सिस्टम, पहली बार ट्रेन में इस्तेमाल हुए खास विस्टाडोम कोच, जानें कैसा रहा यात्रियों का अनुभव
3 दिल्ली के पास रहते हुए भी LG से खुद न मिलने पहुंचे टिकैत, युद्धवीर सिंह मिलने पहुंचे, पर न हो सकी मुलाकात
ये पढ़ा क्या?
X