ओमिक्रोन का ख़तरा! दक्षिण अफ्रीका से आए 6 यात्री मुंबई एयरपोर्ट पर पाए गए कोरोना संक्रमित

केंद्र के दिशानिर्देशों के अनुसार, सूचीबद्ध देशों के अलावा अन्य देशों से आने वाले 5 प्रतिशत यात्रियों की आरटी-पीसीआर जांच बिना क्रम के की जाएगी और संक्रमित पाए गए व्यक्तियों के नमूने जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे जाएंगे।

Airport, Omicron news, Maharashtra
प्रतीकात्मक तस्वीर।

डेल्टा वैरिएंट से 6 गुना ताकतवर बताये जा रहे हैं कोरोना वायरस के नये वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर भारत में अलर्ट जारी कर दिया गया है। सभी राज्यों को निर्देश जारी किए गये हैं कि वो इसको लेकर सतर्कता बरतें और टेस्टिंग बढ़ाएं। वहीं इस बीच दक्षिण अफ्रीका और जोखिम वाले देशों में महाराष्ट्र पहुंचे 6 यात्री कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गए हैं।

बता दें कि ये सभी यात्री उन देशों से आये हैं जहां ओमिक्रॉन वैरिएंट के मामलों की पुष्टि हो चुकी है। मंगलवार को महाराष्ट्र स्वास्थ्य विभाग की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक दक्षिण अफ्रीका और बाकी देशों से आए ये यात्री मुंबई महानगर पालिका, कल्याण-डोंबिवली, मीरा-भयंदर और पुणे नगर निगम सीमाओं में मिले हैं। वहीं नाइजीरिया से पहुंचे दो यात्री पुणे से सटे पिंपरी-चिंचवाड़ निगम क्षेत्र में मिले हैं।

पाये गए हल्के लक्षण: स्वास्थ्य विभाग ने कहा है कि संक्रमित पाए गए लोगों के नमूने जिनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं। इन यात्रियों के सम्पर्क में आने वाले बाकी के व्यक्तियों का पता लगाया जा रहा है। वहीं संक्रमित पाये गए लोगों में हल्के लक्षण देखे गये हैं।

सात दिनों का क्वारंटीन अनिवार्य: गौरतलब है कि ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए भारत सरकार ने “जोखिम” वाले देशों से आने वाले लोगों के लिए नये यात्रा दिशा-निर्देश जारी किये हैं। महाराष्ट्र सरकार ने कहा कि ऐसे अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को अनिवार्य रूप से सात-दिनों तक क्वांरटीन में रहना होगा। अगर यात्री संक्रमित पाये जाते हैं तो उन्हें अस्पताल भेजा जायेगा। वहीं निगेटिव रिपोर्ट आने पर घर में ही सात दिनों के लिए क्वारंटीन रहना होगा।

टेस्टिंग बढ़ाने पर जोर: यात्रियों को यह भी बताना होगा कि पिछले 15 दिनों में उन्होंने किन-किन देशों की यात्रा की हैं। बता दें कि भारत में कोरोना के नये वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर गृह सचिव ने राज्यों को निर्देश दिया कि मौजूदा कोविड -19 रोकथाम उपायों को 31 दिसंबर तक जारी रखा जाना चाहिए। वहीं मध्य प्रदेश की राज्य सरकार ने आपात बैठक कर टेस्टिंग बढ़ाने पर जोर दिया है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट