ताज़ा खबर
 

BSNL के 55 हजार कर्मचारियों की जा सकती है नौकरी: रिपोर्ट

बीएसएनएल से करीब 54,000 कर्मचारियों की छुट्टी हो सकती है। कंपनी ने पूरी तैयारी कर ली है। सिर्फ लोकसभा चुनाव के खत्म होने का इंतजार है। मीडिया रिपोर्ट की माने तो रिटायरमेंट और वीआरएस की उम्र सीमा में भारी फेर-बदल की गई है।

बीएसएनएल से करीब 54,000 कर्मचारियों की हो सकती है छटनी। (फोटो सोर्स: एक्सप्रेस आर्काइव)

सरकारी टेलिकॉम कंपनी ‘भारत संचार निगम लिमिटेड’ (BSNL) से 54,000 कर्मचारियों की छुट्टी हो सकती है। डेक्कन हेराल्ड की एक रिपोर्ट के मुताबिक बुधवार को कंपनी के बोर्ड ने करीब 54,000 कर्मचारियों को नौकरी से हटाने का फैसला कर लिया है। फिलहाल आखिरी फैसला लेने से पहले बोर्ड लोकसभा चुनाव खत्म होने का इंतजार कर रहा है। रिपोर्ट के हवाले से सूत्रों का कहना है कि सरकार ने मार्च के महीने में विशेषज्ञों की एक समिति का गठन किया था। विशेषज्ञों ने बीएसएनएल बोर्ड को 10 सुझाव दिए, जिनमें से 3 पर लगभग मुहर लगा दी गई है।

संचार विभाग (DoT) फिलहाल चुनाव के खत्म होने का इंतजार कर रहा है। जैसे ही चुनाव की सारी प्रक्रिया पूरी होगी, कर्माचारियों को उनकी सेवा से मुक्त करने का काम शुरू कर दिया जाएगा। बीएसएनएल बोर्ड ने रिटायरमेंट की उम्र सीमा 60 साल से घटाकर 58 साल करने का फैसला कर लिया है। अपनी मर्जी से रिटायरमेंट (VRS) लेने की उम्र सीमा भी 50 और इससे अधिक निर्धारित की गई है।

गौरतलब है कि रिटायरमेंट और वीआरएस की नई उम्र सीमा की वजह से करीब 54,451 बीएसएनएल कर्मचारी सेवा से बाहर हो जाएंगे। फिलहाल, बीएसएनएल में कुल कर्मचारियों की तादाद 174,312 है। माना जा रहा है कि इस कदम की वजह से बीएसएनएल अगले 6 सालों के दौरान अपने वेज बिल में 13,895 करोड़ की बचत करेगी। आज की तारीख में बीएसएनएल और एमटीएनएल अपने कर्मचारियों को फरवरी माह की सैलरी नहीं दी है। गंभीर आर्थिक स्थिति को देखते हुए कंपनी ने सरकार से गुहार लगाई थी। हालांकि, सरकार ने अभी तक उस पर कोई फैसला नहीं लिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App