ताज़ा खबर
 

आफत: अगस्त में टूटा 44 साल का बारिश का रेकार्ड, कई राज्यों में नदियां उफनाईं

आइएमडी के मुताबिक सितंबर महीने में अपेक्षाकृत कम बारिश होने की संभावना है। पर देश भर में बारिश का वितरण समान रहने से खरीफ सीजन की फसलों की पैदावार बढ़ेगी। अक्तूबर के संबंध में अभी पूर्वानुमान जारी नहीं किया गया है।

गुजरात के वड़ोदरा में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी (फोटो भूपेंद्र राणा)

देश भर में अगस्त महीने में बीते 44 साल में सबसे ज्यादा बारिश हुई। इस कारण कई राज्यों में नदियों में उफान के साथ बाढ़ के हालात हैं। भारतीय मौसम विभाग (आइएमडी) के आंकड़ों के मुताबिक इस साल अगस्त महीने में 28 तारीख तक 25 फीसद अधिक वर्षा दर्ज की गई है। इससे पहले 1976 में अगस्त महीने में सामान्य से 23.8 फीसद अधिक बारिश हुई थी।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) के आंकड़ों के अनुसार देश में अब तक कुल मिलाकर सामान्य से नौ फीसद अधिक बारिश हुई है। बिहार, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु, गुजरात और गोवा में अधिक बारिश दर्ज की गई है, वहीं सिक्किम में अत्यधिक वर्षा हुई है।

केंद्रीय जल आयोग (सीडब्लूसी) के अनुसार देश में 27 अगस्त तक जलाशयों की कुल क्षमता पिछले साल की इसी अवधि से बेहतर है। यह पिछले दस साल में इसी अवधि में औसत भंडारण क्षमता से भी बेहतर है। सीडब्लूसी ने कहा कि गंगा, नर्मदा, तापी, माही, साबरमती की नदी घाटियों में, कच्छ, गोदावरी, कृष्णा, महानदी और कावेरी तथा दक्षिण भारत में पश्चिम की ओर बहती नदियों में पानी का स्तर सामान्य से अधिक है। हालांकि ज्यादा बारिश के कारण देश के कई हिस्सों में बाढ़ जैसे हालात हैं।

केंद्रशासित प्रदेश जम्मू कश्मीर, मणिपुर, मिजोरम और नगालैंड में इस साल कम बारिश हुई है। देश में सामान्य मानसून का मौसम एक जून से 30 सितंबर तक होता है। जून में देशभर में 17 फीसद अधिक वर्षा हुई थी, वहीं जुलाई में सामान्य से 10 फीसद कम बारिश दर्ज की गई।

आइएमडी के मुताबिक सितंबर महीने में अपेक्षाकृत कम बारिश होने की संभावना है। पर देश भर में बारिश का वितरण समान रहने से खरीफ सीजन की फसलों की पैदावार बढ़ेगी। अक्तूबर के संबंध में अभी पूर्वानुमान जारी नहीं किया गया है।

एक से 28 अगस्त तक बारिश
आइएमडी के आंकड़ों पर नजर डालें तो एक अगस्त से 28 अगस्त तक देशभर में 296.2 मिलीमीटर बारिश हुई है, जबकि बीते कई साल के आंकड़े हैं कि इसी महीने के दौरान औसत बारिश 237.2 मिलीमीटर होती है। इस प्रकार, देशभर में अगस्त में औसत से 25 फीसद ज्यादा बारिश हुई है। इससे पहले 1976 में अगस्त महीने के दौरान औसत से 23.8 फीसद ज्यादा बारिश हुई थी।

1926 में सबसे अधिक बारिश
साल 1926 में अगस्त के महीने में अब तक सबसे ज्यादा 33 फीसद बारिश हुई थी। इस साल देश भर में नौ फीसद ज्यादा बारिश हुई। भारत के दक्षिणी हिस्से में 23 फीसद ज्यादा बारिश हुई। मध्य भारत में इस साल ये आंकड़ा 16 फीसद रहा, जबकि उत्तर-पश्चिम भारत में इस साल 12 फीसद कम बारिश हुई। पूर्वोत्तर भारत के कुछ राज्यों में चार फीसद ज्यादा बारिश दर्ज की गई।

Next Stories
1 कोविड-19 और सुरक्षात्मक एहतियात: खौफ से न घिर जाए बचपन
2 शख्सियत: जनप्रिय गीतों का राजकुमार शैलेंद्र
3 विचार बोध: अध्यात्म और आधुनिकता
ये  पढ़ा क्या?
X