ताज़ा खबर
 

420 दिनों में हर मिनट शेयर बाजार में हुई 30 नए निवेशकों को एंट्री, कर रहे हैं मोटी कमाई

ब्रोकरेज और एक्सचेंजों ने पिछले 14 महीनों में हर महीने औसतन 12-15 लाख नए निवेशक जोड़े, जो कुल मिलाकर 6.97 करोड़ हो गए हैं।

अप्रैल 2020 से लेकर मई 2021 तक देश में हर महीने औसतन 13 से 15 लाख डिमैट अकाउंट खुले हैं।

कोरोना महामारी के बीच बीते एक साल से ज्‍यादा समय से शेयर बाजार में जबरदस्‍त तेजी देखने को मिली है। आंकड़ों के अनुसार अप्रैल 2020 से मई 2021 तक 14 महीनों में हर मिनट में 30 नए निवेशकों की शेयर बाजार में एंट्री हुई है। यानी पिछले साल अप्रैल से हर महीने औसतन 13 लाख नए डीमैट अकाउंट्स खुले हैं। इस साल 31 मई तक कुल रिटेल इंवेस्‍टर्स की कुल संख्‍या रिकॉर्ड 6.97 करोड़ हो गई है। आपको बता दें क‍ि मार्च 2020 के बाद विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की ओर कोविड-19 को महामारी घोषित करने के बाद एक ही महीने में शेयर बाजार में लगभग 35 फीसदी की गिरावट देखने को मिली थी। जिसके बाद जून 2020 से बाजार में तेजी का माहौल बना हुआ है।

एक कैलेंडर ईयर में शेयर बाजार में दिसंबर 2020 तक 15 फीसदी का इजाफा देखने को मिला था। वहीं बात वित्‍त वर्ष 2020-21 की बात करें तो मार्च 2021 तक ऐतिहासिक 68 फीसदी की तेजी देखने को मिली थी, जो 2008-09 के वित्‍त वर्ष में 80 फीसदी की तेजी के बाद भारतीय शेयर बाजार में दूसरा सबसे अच्‍छा प्रदर्शन था। बीएसई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आशीष कुमार चौहान ने जानकारी देते हुए कहा क‍ि ब्रोकरेज और एक्सचेंजों ने पिछले 14 महीनों में हर महीने औसतन 12-15 लाख नए निवेशक जोड़े हैं, जो कुल मिलाकर 6.97 करोड़ हो गए हैं।

उन्होंने कहा कि नए डीमैट खातों में से 40 प्रतिशत बीएसई दलालों द्वारा जोड़े गए। बीएसई के पास उपलब्ध निवेशक आंकड़ों के अनुसार 31 मई 2021 तक देश में 6.9 करोड़ से ज्यादा डीमैट खाते थे। इनमें से लगभग एक चौथाई महाराष्ट्र से हैं, इसके बाद गुजरात में 85.9 लाख खाते हैं। चौहान ने कहा कि डिमैट अकाउंट्स के खुलने की तेजी से अंदाजा लगाया जा सकता है क‍ि देश के कोने कोने में ऑटोमेशन और मोबाइल ट्रेडिंग का प्रचलन बढ़ा है। जिसके माध्‍यम से स्टॉक और म्यूचुअल फंड में निवेश किया जा रहा है।

महाराष्ट्र और गुजरात के बाद 52.3 लाख निवेशक खातों के साथ उत्‍तर प्रदेश तीसरे नंबर पर रहा है। वैसे राज्य की 20 करोड़ की विशाल आबादी की तुलना में इंवेस्‍टर्स की संख्‍या काफी कम है। चौथे नंबर नंबर पर तमिलनाडु हैं जहां 42.3 लाख खाते हैं, और पड़ोसी कर्नाटक 42.2 लाख अकाउंट्स के साथ पांचवें स्थान पर है। 39.5 लाख के साथ बंगाल छठे स्थान पर और इसके बाद दिल्ली (37.3 लाख), आंध्र (36 लाख), राजस्थान (34.6 लाख), एमपी (25.7 लाख), हरियाणा (21.2 लाख), तेलंगाना (20.7 लाख), केरल (19.4 लाख), पंजाब ( 15.2 लाख), और बिहार (16.5 लाख) जैसे राज्‍यों के नंबर हैं।

असम को छोड़कर, जिसमें 7.6 लाख डीमैट अकाउंट्स होल्‍डर्स हैं, अन्य सभी पूर्वोत्तर राज्यों में कुल 1.70 लाख खाते हैं। बीएसई के आंकड़ों के अनुसार, सबसे छोटे क्षेत्र लक्षद्वीप में डीमैट खाताधारकों की संख्या सबसे कम 480 है, जबकि अंडमान और निकोबार में 9,700 खाते हैं। लेकिन, इनमें से अधिकांश खाते इनएक्टिव हैं। मार्च 2020 में एक रिपोर्ट में कहा गया था कि उस समय के 4 करोड़ खातों में से केवल एक चौथाई ही सक्रिय थे। सेबी के दिशानिर्देशों के अनुसार, एक साल से संचालित ना होने वाले अकाउंट्स को इनएक्टिव माना जाता है।

वित्तीय वर्ष 2021 के दौरान, सेंसेक्स ने 20,040.66 अंक यानी 68 फीसदी की भारी छलांग लगाई थी, जबकि निफ्टी में 6,092.95 अंक यानी 70.86 फीसदी की तेजी देखने को मिली थी। यह तेजी इसलिए भी काफी अहम थी क्‍योंकि बाजार ने वित्‍त वर्ष 2019-20 में 30 फीसदी का नकारात्मक रिटर्न दिया था। बाजार में भारी तेजी की सबसे बडद्यी वजह वित्तीय वर्ष में इक्विटी में 35 बिलियन अमरीकी डॉलर के का विदेश था। जून के पहले चार दिनों की बात करें तो विदेशी निवेशकों की ओर से 8000 करोड़ रुपए का निवेश किया है। जबक‍ि मई के महीने में 2954 करोड़ रुपए और अप्रैल के महीने में 9659 करोड़ करोड़ रुपए बाजार से निकाले थे।

अप्रैल के आउटफ्लो से पहले एफपीआई अक्टूबर 2020 से इक्विटी लगातार निवेश कर रहे थे। उन्होंने अक्टूबर 2020 और मार्च 2021 के बीच इक्विटी में 1.97 लाख करोड़ रुपए से अधिक का निवेश किया। इसमें इस साल के पहले तीन महीनों में 55,741 करोड़ रुपए का शुद्ध निवेश शामिल है। इस साल अब तक विदेशी निवेशकों ने इक्विटी में 51,094 करोड़ रुपए का शुद्ध निवेश किया है। हालांकि, डिपॉजिटरीज के आंकड़ों के मुताबिक, उन्होंने डेट सिक्योरिटीज से 17,300 करोड़ रुपए निकाले हैं।

Next Stories
1 कोरोना टीकाकरण पर दिल्ली CM केजरीवाल का ऐलान- 70 वॉर्ड में आज से चलेगा खास अभियान, घर-घर जाएंगे हम
2 6000mAh बैटरी वाला Samsung F12 फोन मिल रहा है सस्ता, जानें डील
3 प्रधानमंत्री आवास पर हुई बीजेपी नेताओं की बैठक, जेपी नड्डा सहित सभी महासचिवों ने लिया हिस्सा
ये पढ़ा क्या?
X