ताज़ा खबर
 

कश्मीर में तीन जगहों पर आतंकी मुठभेड़, जवानों ने घर में छिपे तीन दहशतगर्द किए ढेर

गांदरबल और रामबन जिले में हुई आतंकी मुठभेड़ में सेना ने तीन आतंकियों को मार गिराया। दरअसल ये आतंकी एक परिवार के लोगों को बंधक बनाने की कोशिश कर रहे थे। रामबन के बटोट इलाके के रहने वाले चश्मदीदों ने बताया कि तीन लोग सिविल ड्रेस में हाथ में हथियार लिए एक घर में शामिल दाखिल हुए।

जम्मू कश्मीर में शनिवार को तीन अलग-अलग जगहों पर आतंकियों संग मुठभेड़ की घटना सामने आई। (फोटो-ANI)

जम्मू कश्मीर में शांति भंग करने के लिए आतंकी कोशिश में लगे हैं लेकिन सेना ने इनके नापाक मंसूबों को विफल कर दिया है। जम्मू कश्मीर में शनिवार को तीन अलग-अलग जगहों पर आतंकियों संग मुठभेड़ की घटना सामने आई। सेना के जवानों ने घर में छिपे तीन दहशतगर्दों को मौत की नींद सुला दी।

गांदरबल और रामबन जिले में हुई आतंकी मुठभेड़ में सेना ने तीन आतंकियों को मार गिराया। इसके अलावा आतंकवादियों ने सुबह ग्रेनेड फेंका और धारमुंड गांव में सेना के क्यूआरटी पर गोलीबारी की जिसके बाद मुठभेड़ हुई।  रामबन के बटोत इलाके के रहने वाले चश्मदीदों ने बताया कि तीन लोग सिविल ड्रेस में हाथ में हथियार लिए एक घर में दाखिल हुए।आतंकियों ने परिवार के लोगों को बंधक बनाने की कोशिश की। इस दौरान सेना के जवानों ने लोगों को सुरक्षित बचाया और तीनों आतंकियों को मार गिराया। सेना के मुताबिक आतंकियों से सरेंडर करने के लिए कहा गया लेकिन  आतंकियों ने ऐसा नहीं किया जिसके बाद मुठभेड़ में इनें मार गिराया गया।

जम्मू स्थित रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने कहा, ‘‘मुठभेड़ समाप्त हो गयी है। हमने तीन आतंकवादियों को मार गिराया है। अभियान में एक जवान भी शहीद हुआ है।’’ उन्होंने कहा कि अभी तलाशी अभियान जारी है। विस्तृत जानकारी की प्रतीक्षा है।इससे पहले पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया था कि एक मकान में पांच आतंकवादी छिपे हुए हैं।उन्होंने बताया था कि आतंकवादियों ने शनिवार सुबह सेना के त्वरित कार्रवाई दल (क्यूआरटी) पर हमला कर भागने का प्रयास किया था। लेकिन दल ने उनका पीछा कर उन्हें घेर लिया।अधिकारी ने बताया कि बेहद खराब मौसम के बावजूद गहन तलाशी अभियान के बाद मकान में छुपे आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच दोपहर एक बजे फिर से गोलीबारी शुरू हो गई।

उन्होंने बताया कि मकान मालिक के अंदर फंसे होने की आशंका है और उन्हें सुरक्षित बाहर निकालने का प्रयास किया जा रहा है। उनके परिवार के अन्य सदस्य बाहर आ गए थे और उन्हें सुरक्षित रखा गया है।सुरक्षा बलों द्वारा पीछा किए जाने के दौरान आतंकवादी जबरन इस मकान में घुस गए।ऐसा माना जा रहा है कि आतंकवादी किश्तवाड़ की तरफ से आए और उन्होंने राजमार्ग पर अस्थायी शिविर में रात गुजारी।अधिकारियों ने बताया कि घटना के बाद एहतियाती तौर पर राजमार्ग पर वाहनों की आवाजाही रोक दी गई है।

(भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बीजेपी के खिलाफ उम्मीदवार उतारेंगे सहयोगी नीतीश कुमार, दिल्ली की सभी 70 सीटों पर लड़ेंगे चुनाव
2 राकेश अस्थाना घूसकांड की जांच कर रहे सभी अफसर बदले गए, CBI की मंशा पर उठ रहे सवाल!
3 कश्मीरी छात्रों से योगी ने आर्टिकल 370 समेत विभिन्न मुद्दों पर की बात, जानें क्या बोले सीएम
ये पढ़ा क्या?
X