scorecardresearch

मुंबईः नौसेना के जहाज INS रणवीर पर विस्‍फोट, कंपार्टमेंट में हुए धमाके में 3 नौसैनिक शहीद, जांच के आदेश

भारतीय नौसेना के अधिकारी ने बताया, ”नेवल डॉकयार्ड मुंबई पर आज एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई, INS रणवीर के एक आंतरिक कंपार्टमेंट में विस्फोट में नौसेना के 3 कर्मियों की जान चली गई।”

INS Ranvir
INS रणवीर (विकिमीडिया कॉमन्स/कमांडर, यूएस 7वां बेड़ा)

मुंबई में युद्धपोत आईएनएस रणवीर (INS Ranvir) में धमाका हो गया है जिसमें भारतीय नौसेना के तीन कर्मी शहीद हो गए हैं। इस ब्लास्ट में कई कर्मियों के घायल होने की भी खबर है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, भारतीय नौसेना के अधिकारी ने बताया, ”नेवल डॉकयार्ड मुंबई पर आज एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई, INS रणवीर के एक आंतरिक कंपार्टमेंट में विस्फोट में नौसेना के 3 कर्मियों की जान चली गई। जहाज के चालक दल ने स्थिति को तुरंत किया।”

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, भारतीय नौसेना ने इस धमाके की जांच के आदेश दिए हैं। आईएनएस रणवीर पूर्वी नौसेना कमान से क्रॉस कोस्ट ऑपरेशनल तैनाती पर था और जल्द ही बेस पोर्ट पर लौटने वाला था। इस धमाके में 11 कर्मियों के घायल होने की भी खबर हैं। जबकि हादसे में शहीद हुए नौसेना कर्मियों की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है।

नौसेना अधिकारी ने बताया कि इस ब्लास्ट में किसी बड़े नुकसान की जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि आईएनएस रणवीर में ब्लास्ट कैसे हुआ, इसकी जांच के लिए बोर्ड ऑफ इंक्वायरी के आदेश दिए गए हैं।

आईएनएस रणवीर एक युद्धपोत है जिसे 28 अक्टूबर 1986 को भारतीय नौसेना में शामिल किया गया था। पांच राजपूत श्रेणी के विध्वसंकों मे से ये चौथा है जिसे 310 नाविकों का एक दल संचालित करता है। यह युद्धपोत हथियारों और सेंसर से लैस है। इसमें सतह से सतह और सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल हैं। इसके अलावा युद्धपोत में मिसाइल रोधी बंदूके और पनडुब्बी रोधी रॉकेट लॉन्चर भी हैं।

इससे पहले, 23 अक्टूबर 2021 को भारतीय नौसेना के INS रणविजय में आग लगने की घटना सामने आई थी। इस हादसे में चार नाविक झुलस गए थे जिनको इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इस हादसे के बारे में जानकारी देते हुए अधिकारियों ने बताया था कि जहाज समुद्र में एक अभ्यास से लौटा था और विशाखापत्तनम नेवल हार्बर के पास खड़ा था।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट