ताज़ा खबर
 

कोहरे से 350 से ज्यादा उड़ानें प्रभावित, 270 उड़ानों में देरी, 50 के रास्ते बदले और 35 उड़ानें रद्द

हवाईअड्डे के एक अधिकारी के अनुसार 270 से अधिक उड़ानों में देरी हुई और करीब 50 उड़ानें मार्ग बदलकर अन्य हवाईअड्डों की तरफ भेजी गर्इं।

Author नई दिल्ली | January 1, 2018 2:59 AM
एयर इंडिया का विमान (फाइल फोटो)

इस सीजन के सबसे घने कोहरे के चलते दिल्ली में इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर दृश्यता घटकर 50 मीटर तक आ जाने के कारण रविवार को 350 से अधिक विमानों की उड़ान सेवाएं प्रभावित हुर्इं। हवाईअड्डे के एक अधिकारी के अनुसार 270 से अधिक उड़ानों में देरी हुई और करीब 50 उड़ानें मार्ग बदलकर अन्य हवाईअड्डों की तरफ भेजी गर्इं। करीब 35 उड़ानें रद्द कर दी गर्इं। सुबह साढ़े सात बजे से ग्यारह बजकर पांच मिनट तक कोई भी विमान उड़ान नहीं भर सका। इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से विमानों के उड़ान भरने के लिए 125 मीटर दृश्यता की आवश्यकता होती है।

वैसे दिल्ली हवाईअड्डे पर कम दृश्यता में भी विमानों के उतरने के लिए आधुनिक प्रौद्योगिकी उपलब्ध है, जिसकी मदद से 25- 50 मीटर दृश्यता में उतरने में सक्षम विमान यहां पहुंच सकता है। सूत्रों ने बताया कि करीब 50 विमानों को पास के हवाई अड्डों पर भेजा गया क्योंकि कई पायलट इस प्रौद्योगिकी में प्रशिक्षित नहीं हैं। दिल्ली क्षेत्र व आइजीआइ हवाईअड्डे के लिए भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) के निदेशक आरके जेनामनी ने कहा कि सुबह साढ़े पांच बजे रनवे पर दृश्यता 50-75 मीटर के बीच थी। इस साल कोहरे की यह अब तक की सबसे खराब स्थिति अनुभव की गई है। विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि यह इस मौसम का सबसे घना कोहरा था। हालांकि, दिन में दृश्यता सुधरकर 2000 मीटर तक चली गई और परिचालन सामान्य हो गया लेकिन सुबह हुई परेशानी के चलते दिनभर विमानों में देरी और छह घंटे तक इंतजार देखने को मिला।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App