ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान ने 2019 में 2,050 बार किया संघर्षविराम उल्लंघन, 21 भारतीयों की मौत

भारत ने लगातार पाकिस्तान से कहा है कि वह अपने सुरक्षा बलों को नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 2003 के संघर्ष विराम को लेकर बनी सहमति का पालन करने के लिए कहें।

Author September 15, 2019 3:07 PM
फाइल फोटो

विदेश मंत्रालय ने रविवार को बताया कि इस साल अब तक पाकिस्तान ने बिना उकसावे के 2,050 बार संघर्ष विराम समझौते का उल्लंघन किया जिसमें 21 भारतीयों की मौत हुई है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ‘‘ हमने बिना उकसावे के संघर्ष विराम उल्लंघन समेत सीमा पार घुसपैठ और भारतीय नागरिकों और अग्रिम चौकियों को निशाना बनाने की अपनी चिंताएं पाकिस्तान के समक्ष उजागर की है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ इस साल उन्होंने बिना उकसावे के 2,050 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया जिसमें 21 भारतीय लोगों की मौत हुई।’’ भारत ने लगातार पाकिस्तान से कहा है कि वह अपने सुरक्षा बलों को नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 2003 के संघर्ष विराम को लेकर बनी सहमति का पालन करने के लिए कहें।

बीते दिन भी जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा से लगे हुए गांवों और अग्रिम चौकियों पर पाकिस्तान सैनिकों ने  मोर्टार से गोले दागे और भारी गोलीबारी करके संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी थी। अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने बालाकोट और मानकोट क्षेत्र में सुबह दस बजे गोलीबारी की और मोर्टार से गोले दागे। इसके बाद भारतीय सेना के जवानों ने माकूल जवाब दिया।

उन्होंने बताया कि अंतिम जानकारी मिलने तक दोनों ही तरफ से भारी गोलीबारी हो रही थी। पुंछ के जिला उपायुक्त राहुल यादव ने कहा कि पाकिस्तान की ओर से हुई गोलीबारी में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है और सीमा पर रहनेवाले लोगों को एहतियात के तौर पर सुरक्षा के लिए कदम उठाने की सलाह दी गई है।

वहीं दूसरी ओर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि पाकिस्तान को आतंकवाद को बढ़ावा देना बंद करना चाहिए, नहीं तो उसके टुकड़े होने से कोई नहीं रोक सकता। कर्त्तव्य पालन के दौरान जान गंवाने वाले 122 सैनिकों के परिवारों के लिए यहां आयोजित एक कार्यक्रम में सिंह ने पाकिस्तान को चेतावनी दी, कि यदि उसके लोग नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार करते है तो भारतीय सेना तैयार है और हम उन्हें लौटने नहीं देंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एलओसी पार नहीं करने की अपने लोगों को अच्छी सलाह दी है क्योंकि भारतीय सैनिक तैयार हैं और हम उन्हें लौटने नहीं देंगे।’’ उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को रद्द करने के भारत के फैसले को हजम नहीं कर पा रहा। वह इस मुद्दे को लेकर वह संयुक्त राष्ट्र तक गया और उन्हें गुमराह करने की कोशिश की लेकिन उसे कुछ हासिल नहीं हुआ।

 

Next Stories
1 आरएसएस नहीं होता तो हिंदुस्तान भी नहीं होता- बोले राजस्थान बीजेपी अध्यक्ष सतीश पुनिया
2 ‘…तुम जरूर मारे जाओगे’, आतंकियों को जम्मू-कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल मलिक ने दे डाली वॉर्निंग
3 VIDEO: भारत और अमेरिका के फौजियों ने मिलकर किया डांस, गाया यह खूबसूरत गाना
ये पढ़ा क्या?
X