ताज़ा खबर
 

फरवरी तक हर रविवार को एक बड़े आयोजन की रणनीति, हुंकार रैली से दिल्ली में चुनावी तैयारी का आगाज करेगी भाजपा

हर रविवार को दिल्ली में एक बड़ा आयोजन होगा और इन आयोजनों से भाजपा अपनी चुनावी सभाओं को शुरू करेगी। इनमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शामिल होंगे। संभावना जताई जा रही है कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के लिए खुद प्रधानमंत्री भी इसमें शामिल हो सकते हैं।

Chhattisgarh Vidhan Sabha Election Result 2018: भाजपा का झंडा, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

पंकज रोहिला

भाजपा हुंकार रैली के साथ लोकसभा चुनाव के लिए अपने अभियान का आगाज करेगाी। चुनावी तैयारी में पार्टी के हर कार्यकर्ता को जोड़ा जा सके, इसके लिए जमीनी स्तर पर रणनीति तैयार हो गई है। हर रविवार को दिल्ली में एक बड़ा आयोजन होगा और इन आयोजनों से भाजपा अपनी चुनावी सभाओं को शुरू करेगी। इनमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शामिल होंगे। संभावना जताई जा रही है कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के लिए खुद प्रधानमंत्री भी इसमें शामिल हो सकते हैं। इस अभियान की शुरुआत 16 दिसंबर को महिलाओं की एक हुंकार रैली के साथ की जाएगी। इस रैली के माध्यम से महिला सशक्तीकरण के क्षेत्र में किए गए कार्यों के बारे में बताया जाएगा, ताकि महिला कार्यकर्ता आने वाले लोकसभा चुनावों में आधी आबादी को यह समझाने में सफल हो सकें कि केंद्र सरकार ने किस तरह से महिलाओं के जीवन स्तर में सुधार की दिशा में कार्य किए हैं। इसकी कमान महिला मोर्चा के पास होगी, जहां पार्टी के शीर्ष नेता इनका मार्गदर्शन करेंगे।

कार्यकर्ताओं को राजनीति सिखाएंगे भाजपा अध्यक्ष: महिलाओं के बाद पार्टी सीधे अपने जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं के साथ संवाद करने की तैयारी कर रही है। इसके लिए प्रदेश स्तर पर संगठन महामंत्री सिद्धार्थन खुद कार्यकर्ताओं की बैठकें ले रहे हैं। इससे पहले हुए चुनावों में भी भाजपा ने सबसे अधिक जिम्मेदारी अपने क्षेत्र के पन्ना प्रमुखों को सौंपी थी। ऐसे करीब 25 हजार कार्यकर्ता हैं, जो इस कार्य की सीधी निगरानी करते हैं। इसे चुनाव आयोग की सूची के आधार पर तैयार किया गया है। यह व्यक्ति सीधेतौर पर आम जनता से जुड़ा होता है। इसलिए पार्टी इसे चुनाव के लिए सबसे अहम कड़ी मानती है। इससे पूर्व विधानसभा चुनाव में भी इनके हाथों में कमान सौंपी गई थी।

29 दिसंबर को होगी आरडब्लूए प्रतिनिधियों की रैली: भाजपा की तैयारी है कि वह आरडब्लूए संगठनों की रायशुमारी के बाद ही अपना घोषणा पत्र लाएगी। इसके लिए 29 दिसंबर को आरडब्लूए प्रतिनिधियों की भी एक बड़ी रैली आयोजित होगी। यह रैली केदारनाथ साहनी हॉल में होगी। आरडब्लूए सेल के संयोजक पंकज वधावन ने बताया कि इसके लिए तैयारियां की जा रही हैं और संभावना जताई जा रही है कि इस कार्यक्रम में करीब 1500 आरडब्लूए के प्रतिनिधि जुटेंगे। यहां संगठनों से राय ली जाएगी कि किन चीजों को इस बार के घोषणा पत्र में रखा जाना चाहिए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अक्षय : 20 साल की उम्र में पीएचडी, गणित में फील्ड्स मेडल
2 रेरा ने बढ़ाई खरीदारों की उम्मीद, आशियाने का सपना हो रहा सच
3 अगस्ता सौदा: चर्चा में क्यों है बिचौलिए का ‘कोड वर्ड’