त्रिपुराः स्टेट राइफल के जवान ने अपने ही साथियों पर बरसाईं अंधाधुंध गोलियां, दो की मौत, आरोपी ने किया सरेंडर

त्रिपुरा पुलिस विभाग ने बताया कि, घटना के बाद आरोपी जवान ने हथियार व गोला बारूद के साथ थाने में सरेंडर कर दिया।

Tripura state rifle jawans killed
प्रतीकात्मक फोटोः इंडियन एक्सप्रेस

त्रिपुरा स्टेट राइफल का एक जवान शनिवार की सुबह अचानक अपने साथियों पर अंधाधुंध फायरिंग करने लगा। इस फायरिंग में दो जवानों की मौत हो गई। ये घटना राज्य के सेफाजाला जिले के कोनाबेन के मधुपुर में ओएनजीसी जीसीएस में हुई। पुलिस ने बताया कि हमलावर व मृत जवान त्रिपुरा स्टेट राइफल की पांचवीं बटालियन के थे। 

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, त्रिपुरा पुलिस विभाग ने बताया कि, घटना के बाद आरोपी जवान ने हथियार व गोला बारूद के साथ थाने में सरेंडर कर दिया। मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने मृत जवानों के परिवारों को पांच-पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की है।

पुलिस ने बताया कि सुबह करीब नौ बजे राइफलमैन सुकांत दास ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें सूबेदार मरका सिंह जमातिया की मौके पर ही मौत हो गई और नायब सूबेदार किरन जमातिया ने जीबीपी अस्पताल में दम तोड़ दिया। इसके अलावा फायरिंग की इस घटना में कोई जख्मी नहीं हुआ है।

फायरिंग के बाद सुकांत दास ने मधुपुर थाने पहुंचकर अपने सर्विस हथियार और गोला-बारूद के साथ सरेंडर कर दिया। उसे हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

आरोपी जवान ने अपने साथियों पर फायरिंग क्यों की, इसको लेकर पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई है। पुलिस इस मामले में आरोपी जवान से पूछताछ कर रही है। वहीं, सूत्रों ने कहा कि आरोपी जवान के वरिष्ठ अधिकारियों ने उसकी छुट्टी के आवेदन को ठुकरा दिया था। दास की पत्नी एक पुलिस कांस्टेबल है जो वर्तमान में गोमती जिले के आरके पुर थाने में तैनात है।

त्रिपुरा स्टेट राइफल्स के एक जवान ने की थी अपनी पत्नी और दो बच्चों की हत्या

स्टेट राइफल में जवानों के परेशान या उन्मादी होने की खबरें पहले भी सामने आ चुकी हैं। इससे पहले 2918 में त्रिपुरा स्टेट राइफल्स के एक जवान ने सर्विस राइफल से अपनी पत्नी और दो बच्चों की हत्या कर दी थी। इसके बाद जवान ने खुद खुदकुशी कर ली। यह घटना त्रिपुरा की राजधानी अगरतला के रवीन्द्र नगर इलाके में हुई थी। स्टेट राइफल्स जवान नायक माणिक घोष ने इस घटना को अंजाम दिया था।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट