ताज़ा खबर
 

इस्‍लामिक स्‍टेट के वीडियो में दिखने वाले संदिग्ध हैं इंडियन मुजाहिदीन के भगोड़े

कई बम धमाकों में अपनी भूमिका के लिए वांटेड इन संदिग्‍ध आईएम भगोड़ों ने वीडियो में अपने द्वारा अंजाम दी गई आतंकी घटनाओं, भारत से भागने और योजनाओं के बारे में बात की है।

Author नई दिल्ली | Updated: May 24, 2016 8:46 AM
एनआईए और कई राज्‍यों की पुलिस ने आजमगढ़ के पूर्व निवासी राशिद की भूमिका को 2005 से 2008 के बीच इंडियन मुजाहिदीन द्वारा किए गए बम धमाकों में संदिग्‍ध बताया है। (FILE PHOTO)

इस्‍लामिक स्‍टेट की ओर से पिछले सप्‍ताह जारी की गई डॉक्‍यूमेंट्री में दिखाई देने वाले दो शख्‍स इंडियन मुजाहिदीन के भगोड़े हैं जिन्‍हें खिलाफ मुकदमा चलाने की मांग की गई है। नेशनल इनवेस्टिगेशन एजेंसी और खुफिया सेवाओं के सूत्रों ने यह जानकारी The Indian Express को दी है।

मिली जानकारी के मुताबिक, उत्‍तर प्रदेश में उनके परिवारवालों से बात करने के बाद अबू राशिद अहमद और मोहम्‍मद बड़ा साजिद की पहचान कर ली गई है। दक्षिण एशियाई जिहादियों पर आधारित इस्‍लामिक स्‍टेट की यह पहली डॉक्‍युमेंट्री है। जिसमें किसी समय ठाणे में इंजीनियरिंग के छात्र रहे अमन टंडेल का साक्षात्‍कार भी दिखाया गया है। साथ में उसके दोस्‍तों शाहीम टंकी और फहाद शेख की तस्‍वीरें भी हैं।

Read more: IS ने वीडियो में भारत को दी धमकी, कहा- बाबरी, कश्मीर, गुजरात और मुजफ्फरनगर का बदला लेने आ रहे हैं

कई बम धमाकों में अपनी भूमिका के लिए वांटेड इन संदिग्‍ध आईएम भगोड़ों ने वीडियो में अपने द्वारा अंजाम दी गई आतंकी घटनाओं, भारत से भागने और योजनाओं के बारे में बात की है। एनआईए और कई राज्‍यों की पुलिस ने आजमगढ़ के पूर्व निवासी राशिद की भूमिका को 2005 से 2008 के बीच इंडियन मुजाहिदीन द्वारा किए गए बम धमाकों में संदिग्‍ध बताया है। मोहम्‍मद सज्‍जाद भी आजमगढ़ का रहने वाला है, उस पर अहमदाबाद और जयपुर में सीरियल ब्‍लास्‍ट करने का शक है।

इस्‍लामिक स्‍टेट के साथ मिलकर लड़ने वाले आईएम के पूर्व जिहादियों के संगठन अंसार-उल-तौहीद फिलबिलाद-उल-हिन्‍द ने पिछले साल एक शोक सन्‍देश जारी कर कहा था कि सज्‍जाद जंग में मारा गया। खुफिया सूत्रों का कहना है कि सज्‍जाद का इंटरव्‍यू उन सुरागों में से एक है जो इशारा करते हैं कि आईएस की यह डॉक्‍युमेंट्री महीनों की वीडियो फुटेज से बनाई गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
जस्‍ट नाउ
X