ताज़ा खबर
 

‘मंदिर वहीं बनाएंगे’, ‘वंदे मातरम’ व ‘अल्ला-हो-अकबर’, शपथ ग्रहण में दिखा इन नारों का कॉम्पटिशन

यूपी के मथुरा से भगवा पार्टी की सांसद हेमा मालिनी ने भी शपथ लेने के बाद 'राधे-राधे' और भगवान श्री कृष्ण की तारीफ में एक श्लोक सुनाया।

Author नई दिल्ली | June 18, 2019 8:01 PM
लोकसभा में सांसद पद की शपथ लेने के दौरान बीजेपी के साक्षी महाराज, कांग्रेस की सोनिया गांधी और आप के भगवंत मान। (फोटोः PTI/ANI)

17वीं लोकसभा के पहले सत्र में दूसरे दिन सदन में सांसदों की शपथ के दौरान जमकर नारेबाजी हुई। सत्ता पक्ष और विपक्ष के नेताओं ने ‘मंदिर वहीं बनाएंगे’, ‘वंदे मातरम’, ‘भारत माता की जय’, ‘जय श्री राम’, ‘अल्ला-हो-अकबर’ और ‘जय भीम’ आदि के नारे लगाए। मंगलवार (18 जून, 2019) को सदन में बार-बार ऐसे नारे लगने पर कई बार तो ऐसा लगा कि वहां नारों का कोई कॉम्पटिशन चल रहा हो।

‘जय श्री राम’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे जहां बीच-बीच में लगाए जाते रहे, वहीं अयोध्या में राम मंदिर की मांग को लेकर ‘मंदिर वहीं बनाएंगे’ का उद्घोष भी सुनने को मिला। दरअसल, कानपुर से सटे उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज जब शपथ ग्रहण करने पहुंचे, तो संस्कृत में शपथ लेने के बाद उन्होंने इन्हीं दोनों नारों के साथ वाणी को विराम दिया। यह रही साक्षी महाराज की शपथ के दौरान की क्लिपः

इसी बीच, मथुरा से भगवा पार्टी की सांसद हेमा मालिनी ने भी शपथ लेने के बाद ‘राधे-राधे’ और भगवान श्री कृष्ण की तारीफ में एक श्लोक सुनाया।

हैदराबाद से एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी की बारी आई, तो एनडीए सांसद भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारे लगाने लगे। पर औवेसी ने शपथ के बाद इन नारों के जवाब में ‘जय भीम’, ‘तकबीर’, ‘अल्लाह-हो-अकबर’ और ‘जय हिंद’ का नारा लगाया। देखिए, ओवैसी ने शपथ के बाद क्या-क्या कहाः

सोनिया गांधी की शपथ का मौका आया तो बेटे और कांग्रेस चीफ राहुल गांधी उस दौरान इस यादगार पल को फोन पर रिकॉर्ड करते नजर आए। वहीं, हिंदी में शपथ लेने को लेकर कांग्रेसी सांसदों ने मेज थपथपाकर उन्हें बधाई दी।

प.बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के नेतृत्व वाले टीएमसी के सांसद जब शपथ लेने पहुंचे तो ‘जय दुर्गा’ और ‘जय हिंद’ के नारे लगे। वहीं, आप एमपी भगवंत मान ने शपथ के बाद ‘इंकलाब जिंदाबाद’ का नारा लगाया। आगे शिरोमणि अकाली दल के मुखिया सुखबीर सिंह बादल ने शपथ के अंत में ‘वाहे गुरु जी का खालसा, वाहे गुरु जी की फतह’ कहा था।

नारेबाजी के बीच सदन में सपा सांसद शफीर्कुर रहमान इकलौते ऐसे सांसद रहे, जिन्होंने नारेबाजी पर आपत्ति जताई। शपथ के बाद उन्होंने कहा कि जहां तक वंदे मातरम का सवाल है, तो यह इस्लाम के खिलाफ है। ऐसे में वह यह नहीं बोलेंगे। देखें वीडियोः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App