ताज़ा खबर
 

बेंगलुरू में एक दिन में जलीं 105 लाशें, मंत्री ने सारे डीसी को लिखा- श्मशान के लिए कराइए जमीन का इंतजाम

बेंगलुरू में कोविड -19 की दूसरी लहर ने शहर की स्वास्थ्य व्यवस्था की कमर तोड़ कर रख दी है। कर्नाटक के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि मंगलवार को रिपोर्ट किए गए 21,794 ताज़ा मामलों में से, 13,782 मामले अकेले बेंगलुरू शहर से थे।

बेंगलुरू के एक श्मशान घाट में अपने कंधे पर मटका ले जाता एक शख्स। (पीटीआई)।

बेंगलुरू में कोविड -19 की दूसरी लहर ने शहर की स्वास्थ्य व्यवस्था की कमर तोड़ कर रख दी है। कर्नाटक के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि मंगलवार को रिपोर्ट किए गए 21,794 ताज़ा मामलों में से, 13,782 मामले अकेले बेंगलुरू शहर से थे। यही नहीं मंगलवार को दर्ज की गई 149 मौतों में 105 मौतें अकेले बेंगलुरू में हुईं। मंगलवार को रिकवरी के बाद 4,571 मरीजों को छुट्टी दे दी गई।

गौरतलब है कि कर्नाटक में COVID-19 मामलों और मौतों की घटनाओं के बढ़ने के साथ, राज्य सरकार ने अधिकारियों को शवों के अंतिम संस्कार के लिए शहरी क्षेत्रों के पास भूमि चिन्हित करने को कहा है। अधिकारियों को लिखे पत्र में, कर्नाटक के राजस्व मंत्री आर अशोका ने कहा , “यह मेरे ध्यान में आया है कि मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए जमीन उपलब्ध नहीं है।” मंत्री ने अधिकारियों को पत्र पर तत्काल कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

बता दें कि बेंगुलुरू में प्रति 10 लाख लोगों पर 521 मौतें दर्ज की जा रही हैं। सोमवार को बेंगलुरू में 97 मौतें दर्ज की गईं। श्मशान घाट की लाइन में खड़े एंबुलेंस ड्राइवर रुद्रेश एस ने बताया कि आज कल शवों का अंतिम संस्कार करने के लिए हमें लाइन में 7 से 8 घंटे इंतजार करना पड़ रहा है। स्थिति ये है कि श्मशान घाट शवों के अंतिम संस्कार के लिए टोकन तक बांट रहे हैं।

19 अप्रैल को बेंगुलुरू में 1,03,178 एक्टिव मामले थे। राज्य के 72 फीसदी एक्टिव केस राजधानी बेंगुलुरू में ही हैं। स्थिति ये है कि कोविड मरीजों के लिए बिस्तर बहुत जल्दी भर जा रहे हैं। अस्पताल दूसरे मरीजों को भर्ती करने से इंकार कर दे रहे हैं। डॉक्टरों का कहना है कि शहर को ज्यादा से ज्यादा बिस्तरों की दरकार है।

सरकारी आंकड़े के मुताबिक बेंगलुरू शहर में सोमवार शाम तक 90 फीसदी से ज्यादा आईसीयू बेड और ऑक्सीजन सुविधा वाले बेड भर गए थे। राज्य सरकार भी इस पसोपेश में है कि लॉकडाउन लगाया जाए या नहीं।

बता दें कि कर्नाटक में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 11.98 लाख और महामारी से मौतों की संख्या 13,646 पर पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग ने एक बुलेटिन में कहा कि राज्य में कुल 11,98,644 कोरोना मामलों में 13,646 मौतें हुईं और 10,25,821 मरीज डिस्चार्ज किए गए।

Next Stories
1 सरकार पर एंकर का तंज- पहले रायते को फैलने दिया, पानी नाक से ऊपर गया तो समेटने चले पर, समेट नहीं पा रहे
2 लॉकडाउन का दर्दः बस स्टैंड पर फफक पड़ा प्रवासी, बोला- 3 दिन से नहीं मिल रही बस, पुलिस भी कर रही ज्यादती, देखें वीडियो
3 कोरोनाः मौत से पहले डॉक्टर ने फेसबुक पर लिखा भावुक संदेश, शायद मेरी आखिरी गुड मॉर्निंग
यह पढ़ा क्या?
X