ताज़ा खबर
 

10 साल की रेप पीड़ित नहीं करवा सकेगी गर्भपात, SC ने याचिका ठुकराई

10 साल की बलात्कार पीड़ित लड़की की गर्भपात की याचिका सुप्रीम कोर्ट ने रिजेक्ट कर दी है।

इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है। (Source: Express Archives)

10 साल की बलात्कार पीड़ित लड़की की गर्भपात की याचिका सुप्रीम कोर्ट ने रिजेक्ट कर दी है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि गर्भपात से लड़की की जान को खतरा हो सकता है। सुप्रीम कोर्ट की तरफ से कहा गया कि गर्भपात के लिए अब बहुत देर हो चुकी है। बच्ची 32 हफ्ते की प्रेग्नेंट है। बता दें कि इससे पहले चंडीगढ़ की जिला अदालत ने18 जुलाई, 2017 को अपने एक फैसले में पीड़िता को गर्भपात की इजाजत देने से इंकार कर दिया था। बच्ची के साथ बलात्कार करने का आरोपी खुद उसका सगा मामा है। बच्ची के पिता एक सरकारी कर्मचारी है जबकि उसकी मां घरेलू कामकाज करती हैं। बच्ची के साथ रेप का मामला उस समय सामने आया था जब उसने पेट दर्द की शिकायत अपने परिजनों से की थी।

माता पिता उसे अस्पताल लेकर गए तो उसके गर्भवती होने की बात सामने आई। वहीं 10 वर्षीय बच्चे के गर्भवती होने पर खुद डॉक्टर हक्के-बक्के रह गए हैं। बच्ची का इलाज कर रहे डॉक्टरों ने कहा कि उन्होंने इससे पहले कभी ऐसा मामला नहीं देखा, जिसमें इतनी कम उम्र में कोई बच्ची गर्भवती हुई हो। डॉक्टरों के अनुसार इस उम्र में बच्चे के शरीर का ठीक से विकास भी नहीं हो पाता, शरीर की हड्डिया विकसित होने की प्रक्रिया से गुजरती है। रेप पीड़िता मामले में डॉक्टरों ने कहा कि अगर बच्ची पूरी 9 महीने तक गर्भवती रहती है तो ये उसके लिए बहुत खतरनाक हो सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App