yogasan that cures headache naturally - रोज-रोज के सरदर्द से पूरी तरह निजात दिला सकते हैं ये तीन योगासन - Jansatta
ताज़ा खबर
 

रोज-रोज के सरदर्द से पूरी तरह निजात दिला सकते हैं ये तीन योगासन

आज हम आपको तीन ऐसे आसनों के बारे में बताने वाले हैं जो करने में तो आसान हैं ही साथ ही सरदर्द की समस्या से निजात दिलाने में बेहद असरदार हैं।

प्रतीकात्मक चित्र

योग विज्ञान में तकरीबन हर बीमारी का इलाज मौजूद है। आजकल की जीवनशैली में तनाव और सिरदर्द एक आम समस्या की तरह है। अगर आप भी हर दिन सरदर्द की समस्या से परेशान रहते हैं तो आपको योग करने की जरूरत है। योग में आपकी इस समस्या का स्थायी समाधान मौजूद है। आज हम आपको तीन ऐसे आसनों के बारे में बताने वाले हैं जो करने में तो आसान हैं ही साथ ही सरदर्द की समस्या से निजात दिलाने में बेहद असरदार हैं। आइए जानते हैं कि वे आसन कौन-कौन से हैं और उन्हें करने की विधि क्या है।

वज्रासन – इस आसन को करने के लिए सबसे पहले घुटनों को मोड़कर इस तरह से बैठें कि नितंब दोनों एड़ियों के बीच में आ जाएं। दोनों पैरों के अंगूठे आपस में मिले रहें और एड़ियों में अंतर भी बना रहे। दोनों हाथों को घुटनों पर रखें। शरीर को सीधा रखें तथा हाथों और शरीर को पूरी तरह ढीला छोड़ दें। कुछ देर के लिए अपनी आंखें बंद कर अपना ध्यान सांसों पर केंद्रित रखें।

शीतली प्राणायाम – यह सिरदर्द की समस्या से निजात पाने का बेहतरीन तरीका है। इससे तनाव दूर होता है और दिमाग शांत रहता है। इस आसन का अभ्यास करने के लिए सबसे पहले तो जमीन पर सुखासन की स्थिति में बैठ जाएं। इसके बाद जीभ को बाहर निकालें और मुंह से गहरी सांस लें। आपको सांस कुछ इस तरह से लेना है कि जीभ से होकर हवा शरीर के भीतर प्रवेश करे। इसके बाद मुंह बंद करें और नाक के छिद्रों से सांस छोड़ें। इस क्रिया को 8-10 बार तक दोहराये।

अनुलोम-विलोम प्राणायाम – सिरदर्द से निजात पाने के लिए यह प्राणायाम किया जा सकता है। इसे करने के लिए सबसे पहले सिद्धासन या सुखासन की स्थिति में बैठ जाएं। इसके बाद दाहिने हाथ के अंगूठे से नासिका के दाएं छिद्र को बंद कर लें और नासिका के बाएं छिद्र से सांस को भरें। अब बायीं नासिका को अंगूठे के बगल वाली दो अंगुलियों से बंद कर दें। इसके बाद दाहिनी नासिका से अंगूठे को हटा दें और दायीं नासिका से सांस को बाहर निकालें। कम से कम यही प्रक्रिया 3-5 बार दुहराएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App