ताज़ा खबर
 

दिल को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो नियमित रूप से करें ये आसन

योगासनों में शरीर के हर अंगों की सेहत को दुरुस्त रखने की क्षमता होती है। इसकी वजह से हमारी मांसपेशियों में मजबूती आती है तथा हमारा श्वसन तंत्र दुरुस्त रहता है।

इस चित्र का इस्तेमाल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

 

योगासनों में शरीर के हर अंगों की सेहत को दुरुस्त रखने की क्षमता होती है। इसकी वजह से हमारी मांसपेशियों में मजबूती आती है तथा हमारा श्वसन तंत्र दुरुस्त रहता है। योगासन की वजह से ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में हमारे शरीर में पहुंचती है जिससे हमारे शरीर में रक्त परिसंचरण ठीक ढंग से होता है। इससे हमारे दिल की सेहत पर सीधा असर पड़ता है। कुछ योगासन दिल की सेहत के लिए काफी लाभकारी होते हैं। आइए जानते हैं कि कौन-कौन से योगासन आपके दिल के लिए बेहतर होते हैं।

भुजंगासन – भुजंगासन से हमारी रीढ़ की हड्डी, पेट और बांह का सेहत बेहतर रहती है। इसे करने के लिए पेट के बल लेट जाइए। अपने दोनों हाथों को छाती के पास रखें। अब धीरे-धीरे अपने शरीर को ऊपर उठाइए। अपने पेट पर खिंचाव उत्पन्न करते हुए कमर तक के भाग को ऊपर उठाने की कोशिश कीजिए। इस अवस्था में अपना सारा ध्यान अपनी सांसों पर केंद्रित कीजिए।

ताड़ासन – इसे करने के लिए सबसे पहले सीधे खड़े होकर अपने दोनों पैरों को बाहर की दिशा में हल्का सा फैलाएं। अपने दोनों हाथों को ऊपर ले जाकर नमस्कार की अवस्था में एक दूसरे से जोड़ें। अब गहरी सांस लें और शरीर में खिंचाव उत्पन्न करें। तनाव के लिए यह आसन बेहद उपयोगी है।

वीरभद्रासन – सीधे खड़े हो जाएं। अब एक पैर को पीछे ले जाएं तथा दूसरे पांव को समकोण बनाते हुए मोड़ें। अब दोनों हाथों को ऊपर ले जाकर जोड़ें। दोनों हाथों को सामने लाते हुए पीछे वाले पांव को और पीछे की ओर भेजें। इस प्रक्रिया में दूसरा पैर उसी अवस्था में रहना चाहिए। अब पैरों को बदलकर यही क्रिया दुहराएं।

त्रिकोणासन – सीधे खड़े होकर दोनों पैरों को फैला लें। दाएं पैर को बाहर की ओर खीचें। बाएं हाथ को ऊपर ले जाते हुए कमर को दाईं ओर झुका दें। इस अवस्था में रहते हुए दाईं हथेली को जमीन से सटाएं और बाएं हाथ को और ऊपर खीचें। हाथों को बदलते हुए क्रियाओं को दुहराएं।

सूर्य नमस्कार – सूर्य नमस्कार में 12 तरह के आसन होते हैं। यह सम्पूर्ण शरीर के लिए किया जाने वाला व्यायाम होता है। शरीर को हर तरह के रोगों से मुक्त रखने में सूर्य नमस्कार काफी लाभकारी योगासन है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App