योग से कैसे कंट्रोल करें ब्लड प्रेशर की समस्या, बाबा रामदेव से जानिए

एक स्वस्थ व्यक्ति का रक्तचाप 120/80 होता है। लेकिन जब यह रेंज घटकर 90/60 हो जाती है, तो यह जानलेवा साबित हो सकता है।

Health, Health news, Blood Pressure
लो ब्लड प्रेशर की समस्या से निजात पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय (फोटो क्रेडिट- Getty Images/Indian Express)

दुनिया में वैसे तो कोई न कोई नयी बीमारी आ ही रही है। लेकिन आज के समय में सबसे आम बीमारी ब्लड प्रेशर से अधितर लोग परेशान हैं। डब्ल्यूएचओ की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत में हर साल 20 करोड़ से ज्यादा लोग हाई बीपी का शिकार हो रहे हैं। तनाव, वर्क प्रेशर, अनियंत्रित खानपान और अस्वस्थ जीवन-शैली के कारण होने वाली समस्याओं में से हाई ब्लड प्रेशर यानी उच्च रक्तचाप एक है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक जब आर्टरीज की दीवारों पर खून का दबाव बढ़ जाता है तो इस स्थिति को हाई ब्लड प्रेशर कहा जाता है।

आज के समय में हाई ब्लड प्रेशर की समस्या बेहद ही आम हो गई है। बता दें, एक स्वस्थ व्यक्ति के शरीर में सामान्य रक्त चाप का स्तर 120/80 mmhg होता है। हालांकि, अगर ब्लड प्रेशर की रीडिंग 90/60 mmhg से कम है, तो यह लो माना जाता है। योग गुरु बाबा रामदेव बताते हैं कि ज्यादा एक्सरसाइज करने और ज्यादा पसीना आने से भी कभी-कभी ब्लड प्रेशर लो हो जाता है। उनके मुताबिक अगर आपका ब्लड प्रेशर कम गया है तो इसमें घबराने की कोई जरूरत नहीं है। बल्कि कुछ घरेलू उपाय अपनाकर लो ब्लड प्रेशर को तय मानक में लाया जा सकता है।

सूर्य नमस्कार: बाबा रामदेव बताते हैं कि सूर्य नमस्कार करने से फेफड़ों तक ऑक्सीजन पहुंचता है जिससे पूरा शरीर स्वस्थ रहता है। इसलिए सूर्य नमस्कार निम्न रक्तचाप को संतुलित करने में काफी लाभदायक होता है। इसके साथ यह आसान शरीर की इम्यूनिटी भी दुरुस्त करता है और रोजाना सूर्य नमस्कार करने से तनाव और डिप्रेशन से छुटकारा मिलता है।

शशकासन: शशकासन मानसिक रोगों से भी मुक्ति तो दिलाता है साथ ही रक्तचाप नियंत्रित होता है। रोजाना शशकासन करने से लिवर और किडनी की बीमारी से भी निजात पाया जा सकता है।

ताड़ासन: ताड़ासन रोजाना करने से निम्न रक्तचाप तो संतुलित होता ही है, साथ ही यह शरीर को लचीला बनाकर लंबाई को भी बढ़ाता है। इससे कमर की चर्बी पूरी तरह खत्म हो जाती है। रोजाना ताड़ासन करने से वजन को भी घटाया जा सकता है। साथ ही यह मन को शांत रखने में भी सहायक है।

कोणासन: कोणासन मोटापे को कम कर निम्न रक्तचाप को संतुलित बनाए रखता है। कोणासन तनाव और चिंता से मुक्त दिलाता है। शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को ठीक करता है। कमर और साइटिका के दर्द से राहत दिलाता है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि दूध में हल्दी, शिलाजीत या केसर का सेवन करने से लो बीपी तुरंत सामान्य हो जाता है। इसके अलावा अश्वशिला की दो बूंद चाटने से भी तुरंत ब्लड प्रेशर सामान्य आ जाता है।

पढें योग और मेडिटेशन समाचार (Yogameditationhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट