scorecardresearch

Women Health: गर्भवती नहीं हैं फिर भी दिख रहे हैं लक्षण तो हो सकती है ये वजह

पीरियड्स के दौरान जो महिलाएं दर्द से निजात पाने के लिए दवाइयों का इस्तेमाल करती हैं, उनकी पीरियड्स की साइकल प्रभावित हो सकती है। कभी-कभी ज्यादा दवाइयों के इस्तेमाल से पीरियड्स मिस हो जाते हैं। ऐसे में भी आपको गर्भावस्था जैसा महसूस हो सकता है।

pregnancy, Pregnancy early symptoms, pregnancy symptoms, pregnancy tips
प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में कई हार्मोनल बदलाव आते हैं इसका प्रभाव अन्य अंगों पर भी पड़ता है
प्रेग्नेंसी यानी गर्भावस्था का समय हर महिला के जीवन में बेहद ही खास होता है। क्योंकि, इस दौरान एक महिला को मां बनने का पहली बार अहसास होता है। गर्भावस्था के दौरान महिआओं को शारिरिक, मानसिक और भावनात्मक बदलावों से गुजरना पड़ता है। ऐसे में कुछ महिलाएं को अपने पीरियड्स मिस होने पर ही डर सताने लगता है। हालांकि, अगर प्रेग्नेंसी टेस्ट नेगेटिव आने पर भी गर्भवती जैसा महसूस हो रहा है, तो इसके कई कारण हो सकते हैं।

दरअसल, गर्भावस्था के शुरुआती लक्षण और पीरियड्स से पहले के लक्षण लगभग एक जैसे ही होते हैं। इस दौरान पेट फूलना, सूजन, थकान, मूड स्विंग्स, चटपटा खाने की इच्छा और थकान जैसी समस्याएं होती हैं। हालांकि, यह सब चीजें आपकी मानसिक स्थिति पर निर्भर करती हैं। क्योंकि, अगर आप प्रेग्नेंट होना चाहती हैं और आपके मन में हमेशा ऐसे ही ख्याल रहते हैं, तो इसका असर आपके शरीर पर भी दिखना शुरू हो जाता है।

आपको ऐसा महसूस होने लगता है कि आप गर्भवती हैं। लेकिन असल में हैं नहीं। इसलिए हमेशा पीरियड्स मिस होने के एक हफ्ते बाद ही प्रेग्नेंसी टेस्ट करवाने की सलाह दी जाती है।

गर्भवती नहीं हैं फिर भी प्रेग्नेंसी जैसा क्यों होता है महसूस:

-केमिकल प्रेग्नेंसी: कई बार ऐसा होता है कि पीरियड्स मिस होने के बाद जब महिलाएं घर पर ही टेस्ट करती हैं, तो वह पॉजिटिव आता है। लेकिन कुछ समय बाद ही पीरियड्स शुरू हो जाते हैं। दरअसल, ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि 30 प्रतिशत फर्टिलाइज्ड एग गर्भास्य में फैलोपिन ट्यूब से जाते समय कुछ ही दिनों में नष्ट हो जाते हैं। इस स्थिति में आपको प्रेग्नेंसी जैसा महसूस हो सकता है।

-दवाइयां: पीरियड्स के दौरान जो महिलाएं दर्द से निजात पाने के लिए दवाइयों का इस्तेमाल करती हैं, उनकी पीरियड्स की साइकल प्रभावित होती है। कभी-कभी ज्यादा दवाइयों के इस्तेमाल से पीरियड्स मिस हो जाते हैं। ऐसे में भी आपको गर्भावस्था जैसा महसूस हो सकता है।

-प्री-मीनोपॉज: बढ़ती उम्र के साथ मीनोपॉज की स्थिति पैदा होने लगती है। यूं तो आमतौर पर 52 साल की उम्र के बाद महिलाओं को मीनोपॉज हो जाता है। लेकिन कुछ महिलाओं में 40 की उम्र के बाद ही इसके लक्षण दिखाई देने लगते हैं। जिससे हार्मोन्स में बदलाव के कारण उन्हें प्रेग्नेंसी जैसा महसूस होने लगता है।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.