ताज़ा खबर
 

चेहरे पर क्यों निकल आते हैं सफेद दाग, जानिये इससे निजात पाने के उपाय

Vitiligo Skin Disease: आमतौर पर शरीर के वो हिस्से जो कि सूरज की रोशनी के सीधे संपर्क में आते हैं, विटिलिगो से अधिक प्रभावित होते हैं

skin care, vitamin b12, melanin, vitiligo, skin disease, skin care tips, skin care routineविटिलिगो एक तरह का स्किन डिजीज है जो शरीर में मेलेनिन की कमी के कारण होती है

Skin Marks, Skin Disease, Skin Infection: खूबसूरत बेदाग चेहरा हर किसी की चाहत होती है। आमतौर पर लोग इसके लिए महंगे ब्यूटी प्रोडक्ट्स और कॉस्मेटिक्स का इस्तेमाल करते हैं लेकिन ये जरूरी नहीं है कि सभी ब्यूटी प्रोडक्ट असरदार साबित हों। चेहरे के दाग – धब्बों को मेकअप से छुपाने के बजाय उसके कारणों को जानकर सही उपाय करना चाहिए। पर आपने देखा होगा कि कुछ लोगों के न केवल चेहरे पर बल्कि शरीर के किसी दूसरे हिस्से पर भी सफेद दाग होते हैं। डर्मेटॉलोजिस्ट की मानें तो मेलेनिन अथवा विटामिन बी12 की कमी से लोगों में ये परेशानी देखने को मिलती है। आइए जानते हैं विस्तार से –

कैसे पूरा करें विटामिन बी12 की कमी: आमतौर पर शाकाहारी लोगों में विटामिन-बी12 की कमी देखने को मिलती है। ऐसा इसलिए क्योंकि पशु आधारित खाद्य पदार्थों में ये विटामिन मुख्य रूप से पाया जाता है। विटामिन बी12 की कमी को पूरा करने के लिए वेजिटेरियंस अपनी डाइट में दूध, पनीर, ओट्स अथवा  इस विटामिन के सप्लीमेंट्स खा सकते हैं। वहीं, मछली, चिकेन, अंडे में भी विटामिन बी12 प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।

ऐसे होगी मेलेनिन की पूर्ति: मेलेनिन बॉडी में पाया जाने वाला एक नैचुरल तत्व होता है। ये तत्व स्किन के लिए जरूरी है जो इसके रंग को बरकरार रखता है। जब इसकी कमी हो जाती है तो स्किन में सफेद दाग निकलने लग जाते हैं। जिन लोगों में इसकी कमी हो जाती है उन्हें अपनी त्वचा को धूप से बचाकर रखना चाहिए। इसकी कमी की पूर्ति के लिए लोगों को डाइट में भरपूर मात्रा में पालक, सेब, केला, खजूर, मूली, गाजर और चुकंदर खाना चाहिए।

विटिलिगो बीमारी से चेहरे पर होते हैं धब्बे: विटिलिगो एक तरह का स्किन डिजीज है जो शरीर में मेलेनिन की कमी के कारण होती है। इसे आम भाषा में ल्यूकोडर्मा भी कहा जाता है। कुछ लोगों में जहां ये परेशानी धीरे-धीरे फैलती है, जबकि कुछ मरीजों में ये बीमारी बेहद तेजी से बढ़ता है। आमतौर पर शरीर के वो हिस्से जो कि सूरज की रोशनी के सीधे संपर्क में आते हैं, विटिलिगो से अधिक प्रभावित होते हैं। ऐसे में मरीजों को अपनी  डाइट में कॉपर युक्त फूड, हल्दी, अदरक, नीम और सेब का सिरका शामिल करें।

Next Stories
1 पेट की चर्बी घटाने में मददगार है ग्रीन टी, जानिये कितना पीना होगा उचित
2 साउथ के सीरियलों में भी काम कर चुकी हैं तारक मेहता… की ‘मिसेज हाथी’, जानें एक एपिसोड की फीस
3 प्याज से लेकर आंवला तक, सफेद बालों को दोबारा काला बनाने में कारगर हैं ये घरेलू उपाय
यह पढ़ा क्या?
X