scorecardresearch

चेहरे और गर्दन की चर्बी कम करने के लिए कौन से एक्सरसाइज साबित होंगे असरदार, जानें

Exercise for Neck Fat and Facial Fat: कार्डियो या एरोबिक एक्सरसाइज करके आप अपने चेहरे पर जमा फैट को दूर कर सकते हैं

facial fat, face fat, neck fat, facial fat removal
थायरॉयड और हृदय संबंधी बीमारी की वजह से भी गर्दन के फैट की समस्या हो जाती है

Tips to Remove Double Chin and Neck Fat: बढ़ते वजन के साथ साथ बढ़ती उम्र के वजह से भी आपकी गर्दन में मांस बढ़ जाता है। बुज़ुर्गों के मुकाबले जवान लोगों में गर्दन के फैट की समस्या कम होती है। हालांकि, डबल चिन, फेशियल फैट और गर्दन के आसपास जमे फैट जैसी परेशानियों के लिए अतिरिक्त वसा के कारण शरीर में मौजूद चर्बी जिम्मेदार है। वहीं, थायरॉयड और हृदय संबंधी बीमारी की वजह से भी गर्दन के फैट की समस्या हो जाती है। बता दें कि अत्यधिक मोटे लोगों में गर्दन में फैट बढ़ने का खतरा अधिक होता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि एक्सरसाइज के माध्यम से चेहरे और गले की चर्बी को कम करना आसान हो सकता है।

नेक स्ट्रेच एक्सरसाइज: ये व्यायाम जमीन पर चटाई बिछाकर किया जाता है। चटाई पर बिना तकिए के पीठ के सहारे लेट जाइए। सांस को भीतर खीचते गर्दन को धीरे-धीरे ऊपर उठाएं और फिर सांस को छोड़ते हुए गर्दन को नीचे लाएं। इस एक्सरसाइज को सुबह-शाम 10-15 बार जरूर करें।

ब्रह्म मुद्रा एक्सरसाइज: पहले कुर्सी पर सीधे बैठें। फिर अपनी जांघों पर दोनों हाथों को रखते हुए अपनी गर्दन को पीछे की ओर ले जाएं और छाती में सांस भरते हुए फुलाएं। इसके बाद गर्दन को दाईं तरफ, फिर बाईं ओर घुमाएं। व्यायाम के अंतिम चरण मे 10 सेकंड तक नीचे झुकाने के बाद गर्दन को दाएं से बाएं तरफ गोल-गोल घुमाएं।

चेयर एक्सरसाइज: नाम से ही स्पष्ट है कि व्यायाम चेयर पर किया जाएगा। पहले कुर्सी पर सीधे बैठें। अपने दाएं हाथ को दाएं कंधे पर और बाएं हाथ को सिर पर रखें। फिर गर्दन को धीरे-धीरे नीचे झुकाएं। कुछ सेकंड रुकने के बाद गर्दन को एक बार घड़ी की तरह गोल घुमाएं। इस एक्सरसाइज से गर्दन की चर्बी घटने के साथ गर्दन मजबूत होगी।

हृदय व्यायाम के अलावा, स्वतंत्र वजन उठाना, वजन मशीन का उपयोग, योग और पिलेट्स भी प्रतिरोध प्रशिक्षण मे शामिल करना चाहिए। साथ ही, चेहरे और गले की चर्बी कम करने के लिए एक्सरसाइज के साथ साथ अपनी प्रतिदिन ली जाने वाली कैलोरी की मात्रा को कम करें, पानी खूब पीयें, डाइट में अधिक से अधिक फल और सब्जियों को शामिल करें। फल और सब्जियां दोनों में कैलोरी काफी कम होती है और फाइबर, विटामिन्स और मिनरल्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट