ताज़ा खबर
 

‘कजिन भाई ने डाली बुरी नजर’, जब #METOO पर बोली थीं तारक मेहता फेम मुनमुन दत्ता

Munmun Dutta Story: 'उस व्यक्ति जिसने जन्म के समय में मुझे अस्पताल में देखा था, उसी ने 13 साल बाद मेरे शरीर को गलत तरीके से छूने को सही समझा' - मुनमुन दत्ता

Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah, Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah Cast, Munmun Duttaअपनी बचपन की डरावनी यादों का जिक्र करते हुए मुनमुन लिखती हैं कि

Babita Ji Aka Munmun Dutta: सब टीवी पर प्रसारित सीरियल तारक मेहता का उल्टा चश्मा के सभी किरदारों को दर्शक बेहद पसंद करते हैं। खासतौर पर जेठालाल और बबीता जी की अनोखी जोड़ी को देखकर हर वर्ग के दर्शक ठहाके लगाने पर मजबूर हो जाते हैं। बबीता जी उर्फ मुनमुन दत्ता का किरदार काफी दिलचस्प है। साल 2008 में जब ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ की शुरुआत हुई थी, तभी से मुनमुन दत्ता इस सीरियल का हिस्सा हैं।

सोशल मीडिया पर मुनमुन बेहद सक्रिय हैं, आए दिन वो अपनी फोटोज इंस्टाग्राम पर डालती हैं। साथ ही, अपने को-स्टार्स की तस्वीरों पर कमेंट करके भी वो चर्चा में रहती हैं। खुले विचारों वाली इस एक्ट्रेस ने अपने साथ हुई ज्यादती को भी इंस्टा पोस्ट के जरिये बताया था।

साल 2017 में साझा किये गए इस पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि मी टू को लेकर इतनी लड़कियों का सामने आना पुरुषों को हैरान कर रहा है। जबकि इसमें अचंभित होने जैसा कुछ नहीं है क्योंकि ये उनके आस-पड़ोस और अपने घर में भी खुद की बहन, बेटी, मां, पत्नी, यहां तक कि कामवाली मेड के साथ भी घटित होता है। अपनी कहानी लिखते हुए भी मेरी आंखों में आंसू आ जाते हैं।

अपनी बचपन की डरावनी यादों का जिक्र करते हुए मुनमुन लिखती हैं कि पड़ोस में रहने वाले अंकल को जब मौका मिलता था तब वो मुझे जकड़ लेते थे और किसी को नहीं बताने की धमकी देते थे। उन्होंने आगे लिखा है कि सिर्फ यही नहीं, उम्र में उनसे बड़े कजिन्स भी उन्हें गंदी नजरों से देखा करते थे।

वो आगे लिखती हैं कि उस व्यक्ति जिसने जन्म के समय उन्हें अस्पताल में देखा था, 13 साल बाद उन्हें गलत तरीके से छूना उसे सही लगा। कभी ट्यूशन टीचर तो कभी स्कूल टीचर ने किसी न किसी बहाने से उनका शोषण करने की कोशिश की।

इन्हीं सब चीजों से प्रभावित होकर मुनमुन दत्ता सामाजिक कार्यों में भी आगे रहती हैं। वह बाल शिक्षा का पुरजोर समर्थन करती हैं। इतना ही नहीं, वह अपने घर के कामों में सहायता करने वाली की बेटी की पढ़ाई में भी मदद करती हैं। इसके अलावा, सड़क पर विचरने वाले कुत्तों यानी स्ट्रीट डॉग के भले के लिए भी काम करती हैं।

Next Stories
1 चेहरे के दाग-धब्बे और डार्क स्पॉट्स के लिए रामबाण से कम नहीं लौकी का जूस, ऐसे करें इस्तेमाल
2 लाइमलाइट से दूर रहते हैं अनिल अंबानी के बड़े बेटे, लेकिन छोटे को पसंद है पार्टी, जीते हैं ऐसी जिंदगी
3 कभी मेकअप के नाम पर गुलाब जल से साफ करते थे चेहरा, अब ऐसी जिंदगी जीते हैं राजकुमार राव
ये पढ़ा क्या?
X