scorecardresearch

High BP Symptoms: हाई ब्लड प्रेशर के इन वॉर्निंग साइन को नहीं करें नजरअंदाज

ब्लड प्रेशर बढ़ने पर बॉडी में कुछ लक्षण दिखते हैं जिन्हें ध्यान रखना जरूरी है।

ब्लड प्रेशर एक ऐसी बीमारी है जिसके बढ़ने से ब्रेन स्ट्रोक, लकवा और कई जानलेवा बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। photo-pixabay

हाई ब्लड प्रेशर खराब लाइफस्टाइल, तनाव और खान-पान की खराबी की वजह से पनपने वाली बीमारी है जिसे साइलेंट किलर के नाम से भी जाना जाता है। वेबएमडी की एक रिपोर्ट के मुताबिक हाई ब्लड प्रेशर के इतने कॉमन लक्षण होते हैं कि इसके दूसरे कारण भी हो सकते है।

हाई ब्लड प्रेशर ऐसी खतरनाक बीमारी है जिससे पीड़ित एक तिहाही लोगों को इस बीमारी की चपेट में आने का पता ही नहीं होता। हाई ब्लड प्रेशर जब तक गंभीर नहीं होता तो उसके लक्षणों की पहचान नहीं की जाती। हाई ब्लड प्रेशर का पता सिर्फ ब्लड प्रेशर चेक करके ही लगाया जा सकता है।

ब्लड प्रेशर एक ऐसी बीमारी है जिसके बढ़ने से ब्रेन स्ट्रोक, लकवा और कई जानलेवा बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। आप भी इस साइलेंट किलर से बचना चाहते हैं तो समय-समय पर अपना ब्लड प्रेशर चेक करें और इसके कुछ वार्निंग साइन है उन्हें नजरअंदाज नहीं करें। ब्लड प्रेशर बढ़ने पर बॉडी में कुछ लक्षण दिखते हैं जिन्हें ध्यान रखना जरूरी है।

गंभीर सिरदर्द होना: अक्सर थकान और तनाव की वजह से हमें सिर दर्द होने लगता है जिसका उपचार हम पेन किलर से करते हैं। लेकिन आप जानते हैं कि सिर दर्द होने का कारण हाई ब्लड प्रेशर भी हो सकता है। जब ब्रेन को रक्त की पर्याप्त मात्रा नहीं मिल पाती है तो ब्रेन पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है जिसके कारण तेज सिर दर्द की शिकायत होती है। इसलिए सिर दर्द होने पर ब्लड प्रेशर जरूर चेक करें।

नकसीर फूटना:  हाई ब्लड प्रेशर की वजह से नाक से खून आ सकता है जिसे नकसीर फूटना कहते हैं। इन लक्षणों को नजरअंदाज नहीं करें।

थकान: लगातार लम्बे समय तक काम करने से थकान होना आम बात है लेकिन जब यह थकान अक्सर आपको परेशान करें तो फौरन ब्लड प्रेशर नोट कीजिए।यह ब्लड प्रेशर हाई के संकेत हो सकते हैं

धुंधला दिखाई देना:  अगर आपको लगातार धुंधला दिखाई दे रहा है तो यह भी बीपी हाई के हो सकते हैं संकेत।

छाती में दर्द:  छाती में दर्द तब होता है जब फेफड़ों तक ब्लड ले जाने वाली धमनियों पर दबाव पड़ता है जिससे छाती में दर्द की शिकायत हो सकती है।

सांस लेने में तकलीफ होना: ब्लड प्रेशर बढ़ने पर सांस लेने में भी तकलीफ होती है। जब दिल को फेफड़ों के जरिए ब्लड का संचार करने में परेशानी होती है तो दिल के दाहिने भाग पर जोर पड़ता है तो सीने में दर्द की शिकायत होती है।

अनियमित दिल की धड़कन:  हाई ब्लड प्रेशर के कारण मरीज के सीने में दर्द, अनियमित दिल की धड़कन या दिल का दौरा हो सकता है। हाई ब्लड प्रेशर होने पर दिल को अधिक मेहनत करनी पड़ती है। दिल पर अतिरिक्त दबाव दिल के दौरे का कारण भी हो सकता है।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट