ताज़ा खबर
 

क्या है 21 डे वॉक प्रोग्राम फॉर वेट लॉस, 40 की उम्र में पाएं मोटापे से छुटकारा

वजन कम करना आसान काम नहीं होता पर अगर सही प्लानिंग के साथ कोशिश की जाए तो ये उतना मुश्किल भी नहीं है। आज हम आपको बताएंगे ऐसे कुछ तरीके जिनको अपनाने से चालीस साल की उम्र में भी वजन कम करना बन जाएगा आसान।

21 डे वॉक प्रोग्राम से ऐसे घटाएं अपना वजन

लगातार वजन बढ़ने से लोग कई बीमारी की चपेट में तो आते ही हैं, साथ ही लोगों में आत्म विश्वास की भी कमी आ जाती है। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के एक सर्वेक्षण के मुताबिक देश की राजधानी दिल्ली का लगभग हर चौता बच्चा मोटापे का शिकार है। कम उम्र में वजन कम करना फिर भी आसान होता है, लेकिन अधिक उम्र में वजन कम करना मुश्किल है। आज हम आपको बताएंगे ऐसे कुछ तरीके जिनको अपनाने से चालीस साल की उम्र में भी वजन कम करना बन जाएगा आसान।

21 डे वॉक प्रोग्राम: इसके अंदर लोगों को एक प्लान के तहत दौड़ना होता है। इसमें कार्डियो वॉक, जॉगिंग और सिंपल दौड़ शामिल है। तीन हफ्ते के इस प्लान में लोग धीरे-धीरे अपने दौड़ने की क्षमता बढ़ाते हैं, साथ ही इसमें आराम के लिए भी एक दिन दिया जाता है। इस 21 डे प्रोग्राम को करने से लोग अपना वजन घटा सकते हैं।

वेट ट्रेनिंग है जरूरी: महिलाओं में मौजूद प्राकृतिक मांसपेशियां उम्र बढ़ने के साथ कम हो सकती हैं। ऐसे में हल्के वजन प्रशिक्षण के साथ जिम में कैलरी बर्न करने से वजन काबू में रहता है और आपका शरीर शेप में बना रहता है।

पूरे दिन का रखें रिकॉर्ड: आप इसके लिए एक जर्नल बना कर रख सकते हैं। ऐसा करके आप अपने वजन को संतुलित रख सकते हैं। आप जो भी खाते हैं, उसका एक रिकॉर्ड रखने से आपको पता रहेगा कि आप कितना भोजन करते हैं। 40 साल से अधिक लोगों को वजन घटाने में यह जर्नल काफी काम आता है।

ओमेगा 3 फैटी एसिड है असरदार: यदि आप अपने कमर के आकार को छोटा देखना चाहते हैं, तो आप अपने आहार में मछली को शामिल कर सकते हैं। मछली ओमेगा 3 फैटी एसिड का एक बेहतर स्रोत है। यह एसिड तेजी से वजन घटाने में मदद करती है, साथ ही शरीर को शेप में भी लाती है। इसके अलावा, खरोट जैसे सूखे मेवों, मूंगफली, सोयाबीन, स्प्राउट्स, टोफू, गोभी, हरी बीन्स, ब्रोकली, शलजम जैसी सब्जियों और स्ट्रॉबेरी, रसभरी जैसे फलों में भी ओमेगा 3 फैटी एसिड काफी मात्रा में पाया जाता है।

फाइबर वाले भोजन को चुनें: 40 साल की आयु में कई हार्मोनल परिवर्तन होते हैं, महिलाओं में इसी उम्र में मेनोपॉज भी होता है जो उनके वज़न और कमर को प्रभावित कर सकते हैं। भोजन में फाइबर की मात्रा बढ़ाने से आसानी से वजन कम किया जा सकता है। इसके अलावा, फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ फूला हुआ पेट को नष्ट करने और पाचन प्रक्रिया को तेज करने में भी मदद करते हैं।

मीठे को कहें अलविदा: मीठा छोड़ना चालीस की उम्र में वजन कम करने के लिए सबसे अच्छे सुझावों में से एक है। अधिक मीठा खाने से शरीर में वसा की मात्रा बढ़ती है जिससे मोटापा ही नहीं, बल्कि डायबिटीज और दिल से जुड़ी बीमारी होने का खतरा भी बढ़ जाता है।

Next Stories
1 Shweta Tiwari ने किया 10 किलो वजन कम… जानिए क्या है उनका फिटनेस सीक्रेट
2 Weight Loss: वजन कम करने की कर रहे हैं कोशिश, तो डाइट में जरूर शामिल करें टमाटर
3 Weight Loss: हार्ड वर्कआउट के बावजूद नहीं कम हो रहा है वजन? कहीं ये तो नहीं है वजह!
ये पढ़ा क्या?
X