ताज़ा खबर
 

रात में चावल खाएंगे तो मोटे हो जाएंगे आप? जानिए चावल से जुड़े ऐसे अजीब तथ्यों की क्या है सच्चाई

जब भी वजन घटाने की बात आती है तो अक्सर लोग खान-पान में चावल का उपयोग बंद करने की बात करते हैं। हर कोई यह कहता है की चावल से फैट बढ़ता है।

चावल को लेकर कई तरह के मिथक लोगों के बीच लोकप्रिय हैं। जैसे- रात में चावल खाने से मोटापा हो जाता है या फिर चावल में काफी मात्रा में फैट होता है।

चावल को लेकर कई तरह के मिथक लोगों के बीच लोकप्रिय हैं। जैसे- रात में चावल खाने से मोटापा हो जाता है या फिर चावल में काफी मात्रा में फैट होता है। ऐसे मिथकों पर विश्वास कर लोग चावल को अपनी डाइट से बाहर भी कर देते हैं। ऐसे में वह चावल से मिलने वाले ऐसे पोषक तत्वों के फायदे से रह जाते हैं जो उनके शरीर के विकास के लिए जरूरी होता है। आज हम आपको चावल से जुड़ी ऐसी ही कुछ बातों के बारे में बताने वाले हैं कि उनकी सच्चाई आखिर में है क्या?

चावल से फैट बढ़ता है – जब भी वजन घटाने की बात आती है तो अक्सर लोग खान-पान में चावल का उपयोग बंद करने की बात करते हैं। हर कोई यह कहता है की चावल से फैट बढ़ता है। लेकिन यह पूरी तरह से सच नहीं है। यह बहुत कुछ उसकी मात्रा पर निर्भर करता है। यदि आप हर रोज थोड़ा सा चावल अपने डाइट में शामिल करते हैं तो इससे फैट बढ़ने की संभावना कम होती है। चावल विटामिन और खनिजों का एक अच्छा स्रोत होता है। इसे छोड़ने का मतलब है कई फायदेमंद पोषक तत्वों से हाथ धो बैठना।

रात में चावल खाने से फैट बढ़ता है – चावन दुनियाभर में सबसे अधिक खाया जाने वाला फूड है। यह फाइबर, विटामिन बी सहित कई अन्य पोषक तत्वों का मुख्य स्रोत है। चावल जैसे कार्बोहाइड्रेट युक्त फूड अक्सर वजन बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं। लेकिन कई शोध में यह पाया गया है कि चावल आपको अकेले फैटी बनाने का जिम्मेदार नहीं है। कोई भी फूड अधिक मात्रा में खाने से वजन बढ़ने की संभावना बढ़ जाती है। अतः हमें अपने खान-पान की मात्रा को संयमित करना चाहिए। रात में कार्बोहाइड्रेट नहीं खाना चाहिए यह एक मिथक है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता की आप चावल कब खा रहे हैं। खाने में आप कितनी कैलौरी ले रहे हैं और आपके शरीर को कितनी कैलौरी की जरूरत है यह बात ज्यादा महत्वपूर्ण होती है।

चावल जल्दी पचता नहीं – सच बात तो यह है कि सफेद चावल पूर्णतः संशोधित होता है इसके ऊपरी परत की भूसी और रोगाणु परतों को पूरी तरह से हटा दिया जाता है और यह आसानी से पचता है। सफेद चावल की जगह ब्राउन राइस और रेड राइस पचने में थोड़ा समय लेते हैं क्योकि उनमें फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है। वजन घटाने के लिए ब्राउन राइस का उपयोग किया जाता है इसके अलावा ब्लडप्रेशर, स्तन कैंसर, गैल्स्टोन जैसे रोगों को रोकने में मदद करता है, हड्डियों को भी मजबूत करने के साथ ही साथ हार्ट अटैक के खतरे को भी कम करता है।

डायबिटीज के लिए चावल खतरनाक है – कोई भी फूड सही मात्रा में खाया जाय तो वह बॉडी के लिए फायदेमंद होता है। चावल तो कार्बोहाइड्रेट युक्त एक हेल्दी फूड है। चावल में मैग्निशियम, फॉस्फोरस, ऑयरन, फोलिक एसिड, थियामीन और नियासिन जैसे पोषक तत्व पाये जाते हैं जो ऊर्जा के मुख्य स्रोत हैं। डायबिटीज के रोगी प्रोटीन और फाइबर युक्त अन्य खाद्य पदार्थों के साथ तालमेल रखते हुए चावल खा सकते हैं लेकिन इसे दिन में कई बार खाने से बचना चाहिए।

https://www.jansatta.com/lifestyle/weight-loss-gain-hindi/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App