ताज़ा खबर
 

वजन घटाने के लिए सम्मोहन का भी सहारा लेते हैं लोग, जानिए क्या सही में पड़ता है फर्क

जरुरी नही है कि वजन कम करने के लिए एक ही तरीका सभी लोगों के काम आए। कुछ लोग वजन कम करने के लिए सम्मोहन का भी सहारा लेते हैं। इससे कुछ लोगों को वजन कम करने में मदद मिलती है।

वजन कम करने के लिए सम्मोहन की मदद ली जा सकती है।

वजन कम करना आसान नहीं होता है। इसके लिए लोग कई प्रयास करते हैं। लोग एक्सरसाइज, डाइटिंग, योगा और ना जाने क्या-क्या करते हैं वजन कम करने के लिए मगर फिर भी उनका वजन कम नहीं हो पाता है। वजन कम ना होने के पीछे का कारण कई बार आपके सही तरीके से इन चीजों का इस्तेमाल ना करना भी होता है। जरुरी नही है कि वजन कम करने के लिए एक ही तरीका सभी लोगों के काम आए। कुछ लोग वजन कम करने के लिए सम्मोहन का भी सहारा लेते हैं। इससे कुछ लोगों को वजन कम करने में मदद मिलती है। साथ ही इससे आसानी से वजन कम हो जाता है।

सम्मोहन चेतना कि एक स्थिति होती हैं जिसमें आपकी एकाग्रता और ध्यान बढ़ जाता है, आस-पास के बारे में जागरुकता कम हो जाती है साथ ही किसी की सलाह पर जवाब बढ़ जाता है। जब आप सम्मोहन की स्थिति में होते हैं तो आपके व्यवहार में कई सकारात्मक बदलाव दिखाई देते हैं। सम्मोहन की स्थिति में आप अपनी खाने की आदत को कंट्रोल कर सकते हैं जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है। यह तरीका सुनने में अजीब लगता है पर आपका वजन कम करने में मदद कर सकता है।

कैसे काम करता है:
अगर आप सम्मोहन की उस थेरेपी से शुरुआत करते हैं जिसमें आपको सुला दिया जाता है तो इससे आपको आखिरी में निराशा ही हाथ लगती है।

इस थेरेपी को शुरु करने से पहले अपने सम्मोहन ट्रेनर को बताएं कि आप किस तरह से और कितना वजन कम करना चाहते हैं। उसके बाद इस सेशन को शुरु करें। जिससे ट्रेनर आपके दिमाग में अपनी को संतुलित कर सके। यह आवाज आपके दिमाग में वहीं होती है जो आपको खतरों से दूर रखने और अच्छे निर्णय लेने में मदद करती हैं। सम्मोहन में आपकी अंतर आत्मा ही आपको नुकसान पहुंचने से बचाती है।

इस सेशन के बाद आपका दिमाग ट्रेन हो चुका होता है जिससे आप अनहेल्दी खाने की जगह हेल्दी खाना खाने लगते हैं। जो आपको वजन कम करने में मदद करते हैं।

सम्मोहन आपका वजन कम कर सके ऐसा जरुरी नहीं है। लेकिन जब आप इसे अपने वेट लॉस रुटीन के साथ करते हैं तो वजन कम करने में मदद मिल सकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App