ताज़ा खबर
 

‘मोटापा घटाने में मददगार है ब्लैक टी, हर्ट अटैक का खतरा भी करता है कम’

शोध में कहा गया है कि ब्लैक टी पीने से न सिर्फ मोटापा कम होता है बल्कि यह सेहत को बेहतर बनाए रखने में भी मदद करता है।
जो लोग दिन में तीन बार बिना दूध की चाय पीते हैं उनका रक्‍तचाप अधिक नियंत्रित रहता है।

वजन कम करने में ग्रीन टी के फायदे के बारे में तो हम सभी जानते हैं लेकिन इसके अलावा ब्लैक टी यानी कि काली चाय भी आपका वजन कम करने में आपकी मदद कर सकती है। हाल ही में एक शोध में इस बात का दावा किया गया है। शोध में कहा गया है कि ब्लैक टी पीने से न सिर्फ मोटापा कम होता है बल्कि यह सेहत को बेहतर बनाए रखने में भी मदद करता है। ब्लैक टी में पाया जाने वाला पॉलीफेनॉल्स नाम का केमिकल मेटाबॉलिज्म को बेहतर रखने में मदद करता है।

इससे पहले ग्रीन टी को लेकर किए गए एक शोध में यह पाया गया था कि ग्रीन टी में पाया जाने वाला पॉलीफेनॉल ब्लैक टी में पाए जाने वाले पॉलीफेनॉल से ज्यादा बेहतर होता है। ग्रीन टी में पाया जाने वाला पॉलीफेनॉल खून और नसों द्वारा अवशोषित कर लिया जाता है। शोध को लीड कर रहे यूनिवर्सिटी ऑफ कैलीफोर्निया के प्रोफेसर सुसेन हेनिंग ने कहा कि हमारे नए निष्कर्ष बताते हैं कि ब्लैक टी एक खास मेकैनिज्म के माध्यम से मानव स्वास्थ्य को बेहतर बनाती है तथा वजन को कम करने में मदद करती है। हेनिंग ने आगे बताया कि काली और हरी दोनों तरह की चाय प्रीबायोटिक्स होती हैं जो शरीर में अच्छे माइक्रोऑर्गेनिज्म यानी कि सूक्ष्मजीवों का विकास करती हैं तथा स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में अपना योगदान देती हैं।

इसके अलावा भी ब्लैक टी के अनेक स्वास्थ्य संबंधी फायदे होते हैं। वेस्टर्न आस्ट्रेलिया यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने अपने एक शोध में पाया था कि जो लोग दिन में तीन बार बिना दूध की चाय पीते हैं उनका रक्‍तचाप अधिक नियंत्रित रहता है। अध्ययन के लेखक जोनाथन हागसन के हवाले से वैबएमडी ने बताया था कि पहली बार पता लगा है कि लंबे समय तक काली चाय के इस्तेमाल से उच्च रक्तचाप वाले लोगों में इसके असर से रक्तचाप में दस प्रतिशत गिरावट आ सकती है और दिल के रोग तथा दिल के दौरे का खतरा भी दस प्रतिशत कम हो जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.