ताज़ा खबर
 

Weight Loss: वजन घटाने में रामबाण माना गया है अलसी का बीज, लेकिन ये 6 लोग बना लें दूरी

Flaxseeds for Weight Loss: इसमें म्यूसिलेज नामक फाइबर होता है जो भूख दबाने के साथ ही वजन घटाने में भी कारगर है

अलसी का बीज ओमेगा 3 फैटी एसिड और फाइबर का महत्वपूर्ण स्रोत होता है

Weight Loss Tips: वजन बढ़ने से शरीर में अतिरिक्त चर्बी तो हो ही जाती है साथ ही मोटापा व अन्य बीमारियों का खतरा भी ज्यादा होता है। कई बार लोग वजन घटाने का प्रयास करते हैं लेकिन बार-बार भूख जिसे आम भाषा में क्रेविंग कहते हैं, ये वेट लॉस प्रोसेस को प्रभावित करती है। ऐसे में कुछ फूड्स का सेवन लोगों को लंबे समय तक भरा-भरा रखता है। अलसी का बीज ओमेगा 3 फैटी एसिड और फाइबर का महत्वपूर्ण स्रोत होता है। वजन कम करने की इच्छा रखने वाले लोग इनका सेवन करते हैं। आइए जानते हैं विस्तार से –

कैसे वजन घटाने में मददगार होता है फ्लैक्स सीड: न्यूट्रिशन एक्सपर्ट्स का मानना है कि करीब 10 ग्राम फ्लैक्स सीड्स में 1.9 ग्राम प्रोटीन, 2.8 ग्राम फाइबर, 4.3 ग्राम फैट, 3 ग्राम कार्ब्स और 7 परसेंट पानी की मात्रा होती है। वहीं, 1 चम्मच साबुत अलसी के बीज में 55 कैलोरीज पाई जाती हैं। इसमें म्यूसिलेज नामक फाइबर होता है जो भूख दबाने के साथ ही वजन घटाने में भी कारगर है। एक अध्ययन के मुताबिक नियमित रूप से एक चम्मच अलसी का बीज का पाउडर खाने से मोटापा कम होता है।

क्या हैं दूसरे स्वास्थ्य फायदे: फ्लैक्स सीड्स मैग्नीशियम, थायामिन, कॉपर, फॉस्फोरस और फेर्युलिक एसिड के बेहतरीन सोर्स माने गए हैं। इसमें प्रचुर मात्रा में पोटैशियम पाए जाते हैं जो बीपी कंट्रोल करने के लिए जाने जाते हैं। साथ ही, अलसी के बीजों में लिग्नन (Lignan) नामक तत्व होता है जो ब्लड शुगर का स्तर कम करने में कारगर है। साथ ही, स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि इनके सेवन से महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर का खतरा 18 फीसदी कम होता है।

कैसे करना चाहिए इस्तेमाल: आप इन सीड्स को हल्का भूनकर पाउडर बना लें और इसमें नींबू, प्याज और काला नमक मिलाकर खा सकते हैं। इन सीड्स को आप सलाद या स्मूदी के रूप में खा सकते हैं। साबुत अलसी के बीजों की तुलना में पिसे हुए बीज अधिक फायदेमंद होते हैं।

ये लोग बनाएं दूरी: कुछ लोगों को अलसी के सेवन से परहेज करना चाहिए। इसे खाने के यूं तो अनेक फायदे हैं लेकिन यह आपके लिए कई तरह की शारीरिक समस्याओं का कारण भी बन सकता है। जानिये किन लोगों को फ्लैक्स सीड्स के सेवन से बचना चाहिए –

निम्न रक्तचाप के मरीजों को
जिनका शुगर लेवल लो होता है
कब्ज, गैस, ऐंठन और दस्त जैसी पाचन समस्याएं
प्रेग्नेंट महिलाएं
जिनके पीरियड्स अनियमित हों

Next Stories
1 ‘सुपरफिट’ विराट कोहली ने बताया अपना डाइट सीक्रेट, जानिये कैसा है इंडियन कैप्टन का खानपान
2 कभी एक घर में 9 लोगों के साथ रहते थे मुकेश अंबानी, 10 साल की उम्र में धीरूभाई ने दे दी थी बड़ी सजा, जानें कैसा गुजरा है उनका बचपन
3 ज्यादा प्रोटीन खाने से घटने की बजाय बढ़ने लगता है वजन, डाइट से जुड़ी इन बातों का रखें ध्यान
ये पढ़ा क्या?
X