वेट लॉस करने के लिए अपना सकते हैं ये 5 आदतें, आयुर्वेदिक चीजें हैं सबसे ज्यादा असरदार

Weight Loss करने के लिए बहुत जरूरी है कि आप कुछ चीजों का बहुत ध्यान रखें। इसके अलावा आयुर्वेदिक तरीके अपनाकर भी वजन कम किया जा सकता है।

Weight Loss, Weight Loss Tips, Lifestyle News
वेट लॉस में मदद करता है गुड़ और नींबू से बना ये ड्रिंक

लोग अपना वजन कम करने के लिए क्या कुछ नहीं करते जितना ज्यादा वजन होता है उतनी ही ज्यादा मेहनत भी करनी पड़ती है। इसके लिए अत्यधिक निष्ठा और स्थिरता की आवश्यकता होती है। लेकिन ये समझना जरूरी है कि सिर्फ ज्यादा वर्कआउट और डाइट से ही वजन कम नहीं किया जा सकता बल्कि कुछ सामान्य और सरल जीवन शैली भी अहम भूमिका निभाती है।

यदि आप उन लोगों में से हैं जो अपने बढ़ते वजन से परेशान हैं और वास्तव में वजन कम करना चाहते हैं तो आपको अपनी जीवनशैली में कुछ आदतों को बदलना चाहिए। जिससे आपको अपने वजन कम करने में आसानी हो सके। आयुर्वेद विशेषज्ञ डॉक्टर दीक्षा भावसार ने हाल ही में कुछ ऐसे विकल्प सुझाए हैं जो वजन घटाने के मामले में वास्तविकता में गेम चेंजर हो सकते हैं।

डॉक्टर दीक्षा कहती हैं कि अपनी जीवनशैली में कुछ ऐसी आदतों को अदल-बदलकर आप ये सुनिश्चित कर सकते हैं कि आपके द्वारा घटाया हुआ वजन दोबारा न बढ़ सके। स्थायी रूप से वजन घटाने के लिए इन स्वस्थ स्वैप (Swaps) को अपनी दिनचर्या में शामिल करें-

चीनी की जगह गुड़ का सेवन- सफेद चीनी में सिर्फ कैलोरी होती है जबकि गुड़ पोषक तत्वों से भरपूर होता है।

ठंडे पानी के बजाए गर्म पानी का सेवन- गर्म पानी आपके पाचन तंत्र को सही रखता है। इसके साथ मेटाबॉलिज्म (Metabolism) में भी सुधार करता है। जिससे पाचन ठीक रहता है।

5,000 से 10,000 कदम रोजाना चलना- पूरे दिन एक्टिव रहना (5,000-10,000 कदम चलना) आपके शरीर को एक्टिव, लचीला और बॉडी का रक्त परिसंचरण ठीक रखता है।

फलों का रस पीने की जगह फल खाना- जब आप फलों के रस का सेवन करते हैं, तो आप फाइबर खो देते हैं और जूस होने के कारण आप अधिक पीते हैं। जब आप फलों को चबाते हैं, तो फलों का पाचन ठीक आपके मुंह से शुरू होता है और फाइबर बरकरार रहता है इसलिए आपको फलों के जूस के बजाए फल का सेवन करना चाहिए।

भरी और देरी से रात के खाने के बजाए हल्का फुल्का और जल्दी खाना खाएं- रात में हमारा मेटाबॉलिज्म (Metabolism) कम हो जाता है। इसलिए रात का खाना हल्का और जल्दी होना चाहिए (रात 8 बजे से पहले)

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट